Move to Jagran APP

दिल्ली को पीछे छोड़कर कानपुर बना इस मामले में नंबर वन, स्थानीय लोगों को मिली यह बड़ी राहत

Kanpur air pollution prevention इसमें करीब 60 करोड़ रुपये से कच्ची सड़कों पर इंटरलाकिंग टाइल्स का निर्माण कराया गया। पानी छिड़काव और टैंकर खरीदे गए जगह-जगह हरियाली की गई। साथ ही अन्य कार्य कराए गए हैं। रैकिंग में दूसरे नंबर पर ठाणे और तीसरे नंबर पर नई दिल्ली है। चौथ नंबर पर कोलकाता और पांचवें नंबर पर गाजियाबाद है।

By Jagran News Edited By: Mohammed Ammar Published: Thu, 16 May 2024 05:54 PM (IST)Updated: Thu, 16 May 2024 05:54 PM (IST)
दिल्ली को पीछे छोड़कर कानपुर बना इस मामले में नंबर वन, स्थानीय लोगों को मिली यह बड़ी राहत

जागरण संवाददाता, कानपुर। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा वायु प्रदूषण रोकथाम में सुधार करने की रैकिंग में 131 शहरों में कानपुर पहले नंबर पर आया है। वित्तीय वर्ष 2023-24 के अंतिम त्रैमासिक राष्ट्रीय रैकिंग जारी की है। वायु प्रदूषण रोकथाम के लिए दो वित्तीय वर्ष में 15 वें वित्तीय आयोग से नगर निगम को 225 करोड़ रुपये मिले हैं।

देश की राजधानी तीसरे नंबर पर 

इसमें करीब 60 करोड़ रुपये से कच्ची सड़कों पर इंटरलाकिंग टाइल्स का निर्माण कराया गया। पानी छिड़काव और टैंकर खरीदे गए, जगह-जगह हरियाली की गई। साथ ही अन्य कार्य कराए गए हैं। रैकिंग में दूसरे नंबर पर ठाणे और तीसरे नंबर पर नई दिल्ली है। चौथ नंबर पर कोलकाता और पांचवें नंबर पर गाजियाबाद है। नगर आयुक्त शिव शरणप्पा जीएन ने बताया कि ईंधन से होने वाले प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए चार्जिंग स्टेशनों का निर्माण भी कराया जा रहा है।


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.