कानपुर, जेएनएन। कानपुर से लखनऊ और कासगंज से कानपुर आने जाने वाले यात्रियों के लिए रेलवे की ये खबर अच्छी नहीं है। कासगंज से लखनऊ के बीच सफर करने वाले यात्रियों को एक माह तक परेशानी का सामना करना पड़ेगा, सबसे ज्यादा दिक्कत दैनिक यात्रियों को होगी। रेलवे ने फिलहाल एक माह तक कासगंज-लखनऊ पैसेंजर को निरस्त कर दिया है।

दैनिक यात्रियों को होगी परेशानी

कासगंज-लखनऊ पैसेंजर दैनिक यात्रियों के लिए बेहद मुफीद साबित होती है। लखनऊ से कानपुर आने जाने तथा कासगंज से कानपुर आने जाने वाले यात्रियों की भीड़ अधिक रहती है। लखनऊ से कानपुर तक नौकरी पेशा यात्री अधिक सफर करते हैं। वहीं कासगंज से फर्रुखाबाद कन्नौज और बिल्हौर से यात्री कानपुर तक व्यापार आदि के सिलसिले से अधिक सफर करते हैं। ऐसे में ये ट्रेन छोटे स्टेशनों के यात्रियों के लिए बेहद सुविधाजनक रहती है।

मेंटीनेंस के चलते 16 अक्टूबर तक लिया ट्रैफिक ब्लॉक

कासगंज-फर्रुखाबाद रेल खंड में मेंटीनेंस कार्य के लिए रेलवे ने 17 सितंबर से 16 अक्टूबर तक ट्रैफिक ब्लॉक लिया है। पूर्वोत्तर रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी राजेंद्र सिंह ने बताया कि इसके चलते कासगंज-लखनऊ-कासगंज पैसेंजर इस दौरान निरस्त रहेगी। कासगंज से अनवरगंज चलने वाली पैसेंजर ट्रेन को भी 60 मिनट देरी से चलाया जाएगा। इन ट्रेनों के निरस्त रहने से बड़ी संख्या दूध कारोबारियों को आने वाले दिनों में कठिनाईयों का सामना करना पड़ेगा।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस