कानपुर, जेएनएन। जम्मू कश्मीर के पास पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो गया है, दो दिन और गर्मी पड़ने के आसार हैं। हवा सामान्य से हल्की तेज चलेगी, जबकि अधिकतम और न्यूनतम तापमान में उतार चढ़ाव होगा। वातावरण में आर्द्रता बनी हुई है और उत्तर पश्चिम दिशा से आने वाली हवा रुक गई है। जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड के पहाड़ी क्षेत्रों पर बर्फबारी हो सकती है। वर्षा की आशंका है, इसका आंशिक असर मैदानी क्षेत्रों में दिखाई देगा।

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन पांडेय के मुताबिक एक पश्चिमी विक्षोभ इस समय जम्मू कश्मीर और आसपास के भागों के ऊपर बना हुआ है। दूसरा पश्चिमी विक्षोभ उत्तर भारत की तरफ आ रहा है, उसकी लोकेशन मौजूदा समय में उत्तरी अफगानिस्तान और इससे सटे उत्तरी पाकिस्तान के ऊपर दिखाई दे रही है। जम्मू कश्मीर, लद्दाख के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश और हिमपात होने की संभावना है। हिमाचल प्रदेश में भी एक-दो जगहों पर वर्षा और बर्फबारी हो सकती है। पंजाब, हरियाणा और दिल्ली में कोहरा छा सकता है। उत्तर प्रदेश के पूर्वी भागों पर भी हवाओं में एक चक्रवाती सिस्टम बना हुआ है। केरल के से लेकर गुजरात तक अरब सागर में एक ट्रफ सक्रिय है। दूसरी ट्रफ रेखा बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिमी भागों से उत्तरी तमिलनाडु और दक्षिणी तटीय आंध्र प्रदेश तक बनी हुई है।

उन्होंने बताया कि चक्रवाती हवा और अरब सागर व बंगाल की खाड़ी में ट्रफ रेखा बनने से कानपुर, लखनऊ, प्रयागराज, लमीखपुर खीरी, सीतापुर, गोरखपुर, वाराणसी, फतेहपुर, उन्नाव, फर्रुखाबाद, कन्नौज समेत अन्य शहरों में नमी की अधिकता बनी रहेगी। उत्तर पश्चिम हवा पर ब्रेक लग गया है, जबकि नमी की वजह से सुबह शाम ठंडक होगी। शनिवार को अधिकतम तापमान 28.0, न्यूनतम 10.8 डिग्री सेल्सियस रहा। हवा 1.1 किलोमीटर प्रति घंटे की गति से चली। अधिकतम आर्द्रता 88 फीसद रिकार्ड हुई। अगले कुछ दिनों तक मौसम साफ रहेगा, अत्याधिक ऊंचाई पर आंशिक बादल रह सकते हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021