कानपुर, जेएनएन। शहर में घूम-घूम कर मोबाइल लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले लुटेरे गैंग का बर्रा पुलिस ने भंडाफोड़ किया। पुलिस ने नौ मोबाइल लुटेरों को दबोचने के साथ ही लूटे गए 28 मोबाइल और वारदातों में प्रयुक्त हाईस्पीड बाइक व स्कूटी बरामद की हैं। फतेहपुर के गैंग के सदस्य महंगे शौक पूरे करने के लिए बर्रा व आसपास किराए का कमरा लेकर मोबाइल लूट की वारदातों को अंजाम देते थे।

राजफाश करते हुए एसपी साउथ दीपक भूकर ने बताया, पुलिस टीमों को मोबाइल लुटेरों की धरपकड़ के लिए सक्रिय किया गया था। कई वारदातों में हाईस्पीड बाइक एफजेड होना सामने आया था। मेहरबान सिंह का पुरवा में लूट की घटना के बाद एक एफजेड बाइक बर्रा की ओर जाने की सूचना मिली थी, जिस पर घेराबंदी करके दो लुटेरों को पकड़ा गया। थाने लाकर पूछताछ में उन्होंने अपना नाम फतेहपुर के देवरी बुजुर्ग निवासी नितिन कुमार और भगौना बिंदकी निवासी उत्कर्ष पटेल उर्फ भानू बताया।

उनकी निशानदेही पर पुलिस ने गिरोह के सरगना फतेहपुर के जद्दूपुर बसंत खेड़ा जाफरगंज निवासी मनीष उमराव उर्फ गुड्डू, भलिगवां बकेवर के अभिषेक उमराव, जाफरगंज के प्राशू उर्फ बबलू, कुंदेरामपुर चांदपुर के सनी पटेल के अलावा असधना सजेती के आदित्य पटेल, द्वारिकापुर जहानाबाद के विशाल वर्मा, पुखरायां कानपुर देहात निवासी अर्पित सचान को पकड़ा। आरोपितों के पास से दो एफजेड बाइक, एक अपाचे व एक स्कूटी बरामद की गई है। एसपी साउथ ने बताया कि गाडिय़ों के बारे में ब्योरा जुटाया जा रहा है। पकड़ा गया आदित्य एनडीए की परीक्षा और अर्पित पुलिस भर्ती परीक्षा में शामिल हो चुका है।

सरगना वाहन चोरी में जा चुका जेल

सीओ गोविंद नगर विकास पांडेय ने बताया कि गिरोह का सरगना बर्रा से वाहन चोरी और फतेहपुर से दुकान में चोरी के मामले में जेल जा चुका है। आरोपितों के पास जो लूट के मोबाइल बरामद हुए हैं, उनमें से चार मोबाइल ट्रेस हुए हैं। इसमें तीन मोबाइल बर्रा से, जबकि एक नौबस्ता से लूटा गया। सीओ ने बताया, आरोपित बर्रा के कर्रही, मेहरबान सिंह का पुरवा, यादव मार्केट व आसपास के क्षेत्रों में किराए पर कमरा लेकर रहते थे।

आइएमईआइ नंबर बदलवाकर बेचते थे मोबाइल

एसपी साउथ ने बताया कि पकड़े गए लुटेरों से पूछताछ में सामने आया कि वे लूटे गए मोबाइलों का आइएमईआइ नंबर बदलवाकर बाजार में बेचते थे। मिलने वाले रुपयों से कपड़े, जूते, नशेबाजी समेत अन्य महंगे शौक पूरे करते थे।

दुकानदारों पर भी कसेगी नकेल

बर्रा थाना प्रभारी हरमीत सिंह ने बताया कि लुटेरे दुकानों से उनके पैर्टन और सिक्योरिटी लॉक खुलवाने के बाद आइएमईआइ नंबर बदलवाकर उनकी बिक्री करते थे। उन दुकानों को भी चिह्नित किया जा रहा है। गिरोह के अन्य सदस्यों के साथ दुकानदारों की भी धरपकड़ की जाएगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021