कानपुर, जेएनएन। महामारी के इस कठिन दौर में कमिश्नरेट पुलिस कानून-व्यवस्था बनाए रखने के साथ-साथ मानवीय कार्यों से समाज के हर वर्ग को सहायता पहुंचाने का कार्य कर रही है। कफ्र्यू के दौरान आम लोगों के सहयोग का मामला हो या इलाज में मदद कमिश्नरेट पुलिस लगातार स्थानीय लोगों के दिल में उतरने की कोशिश की कर रही है। कमिश्नरेट पुलिस अब थैलीसीमिया पीडि़त बच्चों की मदद को आगे आई है, जो कि ब्लड बैंक में खून की कमी के चलते मुसीबत में हैं।

कोरोना के चलते रक्तदान के अभियान में कमी आई है। वहीं वैक्सीनेशन के बाद लोग रक्तदान कर भी नहीं रहे हैं। ऐसे में थैलीसीमिया पीडि़त बच्चों को रक्त नहीं मिल पा रहा है। कानपुर नगर पुलिस ने जनमानस के सहयोग से थैलेसीमिया पीडि़त बच्चों के उपचार में मदद का हाथ बढ़ाया है। जनमानस के सहयोग से पुलिस अधिकारियों व कॢमयों ने पिछले दो माह मे 36 यूनिट रक्त और प्लाज़्मा दान किया है। इसमे 31 यूनिट रक्त दान जबकि 5 यूनिट प्लाज़्मा दान शामिल है। पुलिस द्वारा नौनिहालों की मदद के लिए शुरू किये गये इस मानवीय कार्य के परिणाम काफी सकारात्मक रहे। इस अभियान में अब तक 21 नागरिकों और 15 पुलिसकर्मियों ने सहयोग किया है। रक्त दान के लिए लोगों को प्रेरित करने के लिये पुलिस लाइन में समय पर कैंप का आयोजन किया जा रहा है, जिसमे पुलिस आयुक्त असीम अरुण सहित कई नागरिकों, अधिकारियों ने रक्त दान किया। रक्त दान करने वालों को पुलिस आयुक्त की तरफ से प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया जाता है।

सोशल मीडिया के माध्यम से ले सकते हैं मदद : थैलेसीमिया पीडि़त बच्चों के लिए रक्त की आवश्यकता पडऩे पर कोई भी कानपुर नगर पुलिस के ट्वीटर हैंडल, फेसबुक पेज से सहायता ले सकता है। बच्चों की मदद के लिये इसको कानपुर नगर पुलिस एक अभियान के रूप मे चला रही है। 

Edited By: Akash Dwivedi