कानपुर,जागरण संवादाता।  साउथ क्षेत्र में चेन और मंगलसूत्र लूट की वारदात करने वालों की तलाश करने के दौरान बर्रा पुलिस के हत्थे दो मोबाइल लुटेरे चढ़ गए। दोनों की निशानदेही पर छह लूटे हुए मोबाइल फोन बरामद हुए। पुलिस उनके पूछताछ कर गिरोह के अन्य सदस्यों की जानकारी जुटाने का प्रयास कर रही है।

मेहरबान सिंह का पुरवा चौकी प्रभारी दिवाकर पांडेय ने बताया कि मंगलवार को भोर के लुटेरों ने बर्रा और किदवईनगर थाना क्षेत्र में चेन व मंगलसूत्र लूटी थी। इसके बाद लुटेरों ने गुरुवार को नौबस्ता के किदवईनगर वाई ब्लाक और गोविंदनगर में दो महिलाओं की चेन व मंगलसूत्र लूट लिया था। उच्चाधिकारियों के आदेश पर क्राइम ब्रांच, सर्विलांस, चार थानों की टीम समेत 12 टीमें लुटेरों को पकड़ने के लिए लगाई गई थीं। हर टीम अलग-अलग तंत्रों से लुटेरों की तलाश में लगी थी। इसी दौरान शुक्रवार रात एक मुखबिर की सूचना पर उन्होंने बर्रा क्षेत्र से दो युवकों को दबोचा। पूछताछ में उन्होंने अपना नाम तलाक महल स्थित कच्ची बस्ती निवासी फैसल हबड़ा और बाबूपुरवा निवासी मुद्दसिर बताया।दोनों की निशानदेही पर छह मोबाइल फोन बरामद हुए। पुलिस पूछताछ में दोनों बाबूपुरवा, नौबस्ता के चिश्ती नगर, बाकरगंज, बर्रा समेत इलाकों के आठ लोगों के नाम लूट के मोबाइल खरीदने वालों को उठाया गया था, लेेकिन अनजाने में मोबाइल खरीदने वालों को छोड़ दे दिया। अभी भी चार लोगों से पूछताछ चल रही है।

साहब मारना नहीं, छह साल में हजारों मोबाइल लूट चुका हूं...

जागरण संवादाता, कानपुर: साहब मारना नहीं, छह सालों में हजारों मोबाइल लूट चुका हूं। बर्रा थाने में लुटेरे फैसल ने जब अपना इस तरह से कबूल किया तो वहां मौजूद सभी पुलिसकर्मी हंसने लगे। लुटेरे ने बताया कि वह साथी मुद्दसिर के साथ मिलकर ज्यादातर बाजार,सब्जीमंडी, सिनेमाघर के बाहर, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन आदि भीड़ वाले स्थानों पर मोबाइल फोन लूटता है। लूटे हुए मोबाइलों को तीसरे साथी जमील को मोबाइल बेचता है और वो उन मोबाइलों को ज्यादातर शराब ठेकों पर अपनी जरूरत बताकर बेचता है। पुलिस अब जमील की तलाश में लगी है।

Edited By: Abhishek Verma