कानपुर, जागरण संवाददाता। महाराजपुर में चकेरी - पाली मार्ग पर रविवार सुबह फैक्ट्री कर्मी विनोद दीक्षित का रक्तरंजित शव मिला था।शहरी में गहरे चोट के निशान थे।मृतक की बेटी ने पुरानी रंजिश में पड़ोसियों द्वारा हत्या किए जाने का आरोप लगा पांच लोगों के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।पुलिस तीन नामजद आरोपितों व दो अन्य को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।पोस्टमार्टम रिपोर्ट में रक्तस्त्राव अधिक होने से मौत होने की बात पता चली है।पुलिस हत्या व मार्ग दुर्घटना दोनों आधार पर जांच को आगे बढ़ा रही है।

 नर्वल सेमरुवा निवासी 55 वर्षीय विनोद दीक्षित का शव रविवार सुबह चकेरी - पाली मार्ग पर जोधेपुरवा के पास मिला था।शरीर पर गहरे चोट के कई निशान थे।मृतक की साइकिल व मोबाइल भी गायब है। स्वजन ने हत्या का आरोप लगा शव सात घंटे तक उठने नहीं दिया था। बाद में आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई के आश्वासन पर स्वजन शांत हुए थे।मृतक की बेटी मोनिका की तहरीर पर पुलिस ने गांव के ही राजकुमार दीक्षित,शिवम, अनिल पांडेय,हिमांशु व प्रदीप दीक्षित के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया था।स्वजन का आरोप था कि पुरानी रंजिश के चलते आरोपितों ने हत्या की है।वहीं सोमवार को पोस्टमार्टम रिपोर्ट में अधिक रक्तस्राव होने से मौत की बात सामने आई है।थाना प्रभारी महाराजपुर राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि हत्या व मार्ग दुर्घटना दोनों को ध्यान में रखते हुए जांच की जा रही है।साक्ष्यों के आधार पर ही कार्रवाई की जाएगी।तीन - चार लोगों से पूछताछ की जा रही है।

Edited By: Shaswat Gupta