कानपुर, जेएनएन। मंडलायुक्त  और नगर आयुक्त  ने देर शाम कई रैन बसेरों का अफसरों के साथ अचानक निरीक्षण किया। इस दौरान अफसरों को अादेश दिए कि हर रैन बसेरा में पेयजल, बेड, कंबल, चादर और शौचालय साफ रखे जाए इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

मंडलायुक्त डॉ.राजशेखर  और नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी ने शाम नौ  बजे रैन बसेरा का परियोजना अधिकारी डूडा, सहायक अभियंता, क्षेत्रीय अवर अभियंता के साथ निरीक्षण किया। 

रोशनी का दिखा अभाव 

सबसे पहले  चुन्नीगंज स्थित रैन बसेरा में उपलब्ध व्यवस्था का मुआयना किया गया जहाँ पर पेयजल, सफाई, बेड, कम्बल तकिया चादर, बाल्टी मग, शौचालय की सफाई की व्यवस्था ठीक पाई गई। हॉल में रोशनी का अभाव मिला। इसको लेकर मंडलायुक्त ने अफसरों को अादेश दिए कि रोशनी की व्यवस्था की जाए। इसके उपरांत फूलबाग स्थित रैन बसेरा का मुआयना किया गया जहाँ पर मात्र तीन लोग ही ठहरे पाए गए। मौके पर लगे सीसीटीवी कैमरे का डीवीअार चेक किया गया जो ठीक मिला। यह पर भी पेयजल , बेड, कम्बल , चादर शौचालय की सफाई व्यवस्था ठीक मिली। इस दौरान रैन बसेरा में रखा रजिस्टर उठाकर भी मंडलायुक्त ने देखा। वर्तमान समय में नगर निगम अौर डूडा के 28 रैन बसेरा शहर में है। कई रैन बसेरों की नगर निगम की पुताई करा रहा है। साथ ही कोरोन को देखते हुए शारीरिक दूरी का पालन रैन बसेरा में  करने के अादेश अफसरों को दिए गए है। दो बेड में दूरी रखी जाए। सफाई व्यवस्था का खास ध्यान रखा जाए।

Edited By: Shaswatg