कानपुर, जागरण संवाददाता। कोविड की रोकथाम के लिए अब औद्योगिक इकाइयों में वैक्सीनेशन के शिविर लगाने की तैयारी है। शनिवार को डीएम विशाख जी अय्यर ने उद्यमियों और कारोबारियों के साथ वर्चुअल मीङ्क्षटग की। उन्होंने कहा कि औद्योगिक इकाइयों में ही स्वास्थ्य टीम टीका लगाएगी। इससे श्रमिकों व अन्य कर्मचारियों को दूर नहीं जाना पड़ेगा और काम भी प्रभावित नहीं होगा। हालांकि, उद्यमियों ने कहा कि बड़ी औद्योगिक इकाइयां जहां 30 से 40 कर्मचारी हैं, वहां शिविर लगाया जाए। आइआइए भवन में भी शिविर लगाने का आग्रह किया।

डीएम ने कहा कि आन साइट वैक्सीन के लिए निर्धारित प्रारूप पर सूचना उपलब्ध करा दें ताकि समय से शिविर का आयोजन किया जा सके। सभी उद्यमी अपनी इकाई में बोर्ड लगाएं की मेरी इकाई पूर्ण रूप से वैक्सीनेटेड है। इसी तरह अपनी वेबसाइट पर भी यही संदेश लिखें। जैसे ही छूटे हुए कर्मचारियों की संख्या प्राप्त होगी, स्वास्थ्य विभाग की टीम यूनिटों में वैक्सीनेशन कैंप लगाएगी। यदि किसी यूनिट में किसी लेबर के पास आधार कार्ड नहीं है तो फैक्ट्री द्वारा जारी पहचान पत्र के माध्यम से उनका वैक्सीनेशन किया जा सकेगा। इसके लिए मोबाइल नंबर देना होगा।

इन्हें भी मिलेगी सुविधा : कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट, घाटमपुर पावर प्लांट, पनकी पावर प्लांट निर्माण, कानपुर-अलीगढ़ जीटी रोड और कानपुर-प्रयागराज राष्ट्रीय राजमार्ग के चौड़ीकरण कार्य में लगे कर्मचारियों को भी आनसाइट वैक्सीन लगाने का आदेश आदेश डीएम ने दिया। आइआइए के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष सुनील वैश्य, राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष आलोक अग्रवाल, दिनेश बरासिया, पीआइए के प्रांतीय अध्यक्ष मनोज बंका, कानपुर उद्योग व्यापार मंडल के अध्यक्ष टीकम चंद्र सेठिया, शेष नारायण त्रिवेदी, बृजेश अवस्थी, उमंग अग्रवाल बैठक में शामिल हुए।

Edited By: Abhishek Agnihotri