जागरण संवाददाता, कानपुर : जीटी रोड से जुड़ा गांधीग्राम के लिए नमामि गंगे प्रोजेक्ट मुसीबत बन गया है। सीवर लाइन डालने के लिए बेतरतीब ढंग से सड़क खोदकर छोड़ दी है। बारिश का पानी भरने से खुदी सड़कें कीचड़ में बदल गई है निकासी न होने के कारण कई घरों में पानी भरा है। आठ माह से नरक झेल रहे लोगों का सब्र का बांध टूटने लगा है। कभी भी आक्रोश बनकर लावा सड़क पर फूट सकता है।

दैनिक जागरण द्वारा मलिक गेस्ट हाउस जीटी रोड में लगाए गए जागरण आपके द्वार शिविर में जनता ने अपने दर्द को बयान किया।

नमामि गंगे प्रोजेक्ट के तहत वार्ड 26 गांधीग्राम में भी सीवर सफाई के साथ नई लाइन डाली जा रही है। अभी तक लाइन चालू तो हुई नहीं है उल्टे जनता द्वारा बनाया गया सीवरेज सिस्टम भी तोड़ दिया है। हालात यह हैं कि सड़क पर ही बारिश के पानी के साथ ही सीवर का पानी भी भरा हुआ है। बच्चों, महिलाओं व बुजुर्गो को निकलने के लिए जूझना पड़ता है। संक्रामक रोग फैलने का खतरा बढ़ गया है। सड़के दलदली होने के कारण वाहनों का निकलना मुश्किल हो जाता है। क्षेत्रीय लोगों ने बताया कि कई बार जल निगम के आला अफसरों से शिकायत कर चुके है लेकिन समस्या जस की तस है। अब समस्या का निस्तारण न हुआ तो जीटी रोड पर आंदोलन किया जाएगा। पूर्व पार्षद मनोज यादव ने बताया कि इस मामले में जल निगम के सभी आला अफसरों से शिकायत कर चुके है। समस्या हल न होने पर जनता के साथ अफसरों को घेरा जाएगा।

बीच-बीच में गैप भी छोड़ दिए

शिवकटरा में सीवर लाइन डालने के दौरान बीच-बीच में गैप छोड़ दिए है। सीवर निस्तारण होने पर गैप छूटे होने के चलते सड़क में पानी भरेगा और सड़क धंस जाएगी।

अतिक्रमणकारियों ने गायब किया फुटपाथ

लोक जन सेवा समिति के पदाधिकारियों ने अफसरों से शिकायत की कि शिवकटरा में अतिक्रमणकारियों ने फुटपाथ पर कब्जा कर रखा है इसको हटाया जाए ताकि राहगीरों को निकलने के लिए जूझना न पड़े।

चंट्टे व आवारा जानवरों ने छीना चैन

चंट्टे व आवारा जानवरों ने लोगों का चैन छीन लिया है। जीटी रोड पर दौड़ते आवारा जानवर वाहन चालकों के लिए मुसीबत बन गए है। कई बार वाहन आपास में भिड़ जाते है कई लोग अब तक चुटहिल हो चुके है। जगह-जगह चंट्टों के कारण नाली व सीवर लाइन चोक हो गई है।

बेतरतीब सब्जी मंडी के कारण लगता है जाम

रामादेवी चौराहा पर बेतरतीब लगी सब्जी मंडी ने रास्ता रोक दिया है। हाईवे व सर्विस लेने में लगने वाली सब्जी मंडी के चलते वाहन फंसते है और जाम लगा रहता है।

क्षेत्र का हाल

वार्ड - 26

आबादी - 80 हजार

मोहल्ला- शिवकटरा, गांधीग्राम, पटेल नगर, सैनिक नगर, सदानंद नगर, शक्ति नगर, मंगला विहार, एचएएल कालोनी

विशेषता- त्रिमूति मंदिर व रामादेवी चौराहा

क्या कहते हैं जिम्मेदार

जनता की आई शिकायतों को संबंधित विभागों के अफसरों को दे दी गई है। प्राथमिकता के आधार पर समस्याओं का निस्तारण कराया जाएगा।

केपी आनंद, अधिशासी अभियंता जलकल विभाग

जनता की आई समस्याओं का निस्तारण अफसरों के साथ मिलकर कराया जाएगा। समस्याओं का हल न होने पर जनता के साथ अफसरों का घेराव किया जाएगा।

विजय लक्ष्मी यादव, पार्षद, गांधीग्राम

जनता का आवाज

गांधीग्राम में जल निगम ने सड़कें खोदकर छोड़ दी है जो बारिश में कीचड़ में बदल गई है। घरों से निकलना मुश्किल हो गया है।

- उमाकांत वाजपेयी

नमामि गंगे के तहत सीवर से निजात दिलाने के लिए काम किया जा रहा है जो जनता के लिए मुसीबत बन गया है। खुदे रास्ते खतरनाक हो गए है।

-मोहन दुबे

चंट्टों को हटाया जाए नहीं तो चंट्टों का गोबर बची सीवर लाइन को भी चोक कर डालेगा। सड़क व फुटपाथ पर ही लोगों ने चंट्टे बना दिए है।

- उमेश प्रताप श्रीवास्तव

अतिक्रमण हटाया जाए और सीवर लाइन और पेयजल लाइन को जल्द चालू कराया जाए ताकि जनता को राहत मिल सके।

- संजय कुशवाहा

खोदाई में पाइप लाइन टूट जाने से पिछले कई दिनों से दूषित पानी आ रहा है। शिकायत करने के बाद भी समस्या का निस्तारण नहीं हो रहा है।

- मनोज विश्वकर्मा

घर-घर से गंदगी उठाने वाला अभियान शुरू कराया जाए ताकि सड़क पर गंदगी न आए। साथ ही सड़कों की सफाई के साथ नालियां भी साफ कराई जाए।

- रोहित पटेल

जागरण सुझाव

- रामादेवी चौराहे पर एक भी शौचालय नहीं है। इसको बनवाया जाए।

- चौराहे पर लगने वाली सब्जी मंडी को व्यवस्थित किया जाए ताकि जाम से जनता को निजात मिल सके।

- बाजार में पार्किग व्यवस्था की जाए।

- एटीएम पेयजल की व्यवस्था की जाए ताकि जनता को शुद्ध पानी मिल सके।

0 क्षेत्र में एक मात्र सुलभ शौचालय है कम से कम पांच सुलभ शौचालय खोले जाए।

0 नमामि गंगे के तहत हो रहे कामों को एक-एक करके कराया जाए ताकि जनता को राहत मिल सके।

- सफाई कर्मचारी सिर्फ 45 है, क्षेत्र में सौ कर्मचारी तैनात किए जाए। सीवर सफाई कर्मी सिर्फ तीन है 25 तैनात किए जाए।

अफसर मौजूद थे

जलकल से अधिशासी अभियंता केपी आनंद, अवर अभियंता निशा गुप्ता व जितेन्द्र शर्मा, नगर निगम से अंवर अभियंता अवधेश कुमार व सुमेर यादव, चकेरी इंस्पेक्टर रामलाल पाण्डेय व केस्को से अवर अभियंता बरदानी लाल थे।

यह आयी समस्याएं

नगर निगम - 32

जलकल विभाग - 35

जल निगम - 55

केस्को - 6

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप