कानपुर, जेएनएन। भारतीय स्टेट बैंक अपने खाताधारकों को झटका देने जा रहा है। अगर आपका खाता स्टेट बैंक में है तो एक नवंबर 2019 से आपको बचत खाते पर मिलने वाली ब्याज दर में कमी आने वाली है। सावधि जमा पर भी नए परिवर्तन का असर पड़ेगा।

स्टेट बैंक के बचत खातों में अब तक 3.5 फीसद ब्याज मिल रहा था। अब एक नवंबर से बैंक इसे घटा कर 3.25 फीसद करने जा रहा है। इस तरह यह कटौती .25 फीसद होगी। इसका सीधा मतलब है कि जिन लोगों के बचत खाते हैं, उनको कम लाभ मिलेगा। इसी तरह सावधि जमा पर भी ब्याज घटाया जा चुका है। रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में कटौती होने के बाद सावधि जमा की दरों को भी घटाया है। 10 अक्टूबर से लागू हुई नई व्यवस्था में एक वर्ष से दो वर्ष वाली सावधि जमा की ब्याज दरों को .10 फीसद कम किया गया है। यह अभी तक 6.5 फीसद थी जिसे अब 6.4 फीसद किया गया है। इस वर्ग में वरिष्ठ नागरिकों की सावधि जमा को भी .10 फीसद कम किया गया है। इस पर अभी तक ब्याज दर 7.0 फीसद थी जिसे अब 6.9 फीसद किया गया है।

यह व्यवस्था दो करोड़ रुपये से कम की सावधि जमा पर लागू है। दूसरी ओर दो करोड़ रुपये से अधिक की सावधि जमा पर भी ब्याज दरें कम की गई हैं। एक वर्ष से दो वर्ष की एफडी में इसे 6.3 फीसद से घटाकर 6.0 फीसद किया गया है। वरिष्ठ नागरिकों के लिए इसे 6.8 फीसद से 6.5 फीसद किया गया है। नेशनल कनफेडरेशन ऑफ बैंक इंप्लाइज के सचिव राजेंद्र अवस्थी के मुताबिक एक लाख रुपये से कम जमा वाले बचत खाते इससे प्रभावित होंगे। इससे छोटी बचत को प्रभावित किया जा रहा है।

 

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप