कानपुर, जेएनएन। दोस्ती दो लोगों के बीच इक मजबूत डोरी है, दोस्तों के बिना जिंदगी अधूरी है...ये लाइनें बिल्कुल सही हैं, क्योंकि जिंदगी जीने के असल मायने दोस्त ही तो बताते हैं। दिनभर की थकान हो या भागदौड़ भरी जिंदगी की टेंशन...दोस्तों के साथ बात करने और घूमने से वो उड़न छू हो जाती है। दोस्ती है ही एक खास रिश्ता, जो हर तकलीफ को भुला, जिंदगी जीने का असल मतलब समझाती है, लेकिन कोरोना कफ्र्यू के चलते इस बार ऐसा संभव नहीं होगा। ऐसे में दोस्त को वर्चुअल सरप्राइज देने की तैयारी दोस्तों ने की है।

मित्र दिवस को लेकर लोगों में खास उत्साह होता है। वॉट्सअप फेसबुक और टविटर पर संदेश का क्रम मित्र दिवस की पूर्व संध्या पर ही शुरू हो गया। हालांकि खास दोस्त को शुभकामनाएं देने के लिए दोस्तों ने वीडियों बनाकर सरप्राइज देने की तैयारी की है। छावनी निवासी पवन सिंह ने बताया कि हर बार अपने खास दोस्तों के साथ पहले फिल्म देखने जाते थे। इसके बाद रेस्टोरेंट में सभी मिलकर पार्टी करते थे। पिछले साल कोविड के चलते ऐसा नहीं कर पाए। इस बार भी रविवार को कोरोना कफ्र्यू के चलते दोस्तों से मिलकर पार्टी संभव नहीं होगी। अफीम कोठी निवासी पुनीत राज शर्मा ने बताया कि अपने पांच खास दोस्तों को शुभकामना देने के लिए उन्होंने वीडियो क्लिप बनायी है जो शनिवार की रात 12 बजे सेंड करेंगे। मित्र दिवस को लेकर खासे उत्साहित रहने वाले बच्चों ने भी वीडियो और आडियों मैसेज से बधाई संदेश देने का क्रम शनिवार से ही शुरू कर दिया।

Edited By: Akash Dwivedi