कानपुर, जेएनएन। कानपुर सेंट्रल स्टेशन पर बुधवार की सुबह कोच डिरेल होने के बाद ट्रेनों का संचालन बुरी तरह प्रभावित हो गया है। वंदेभारत एक्सप्रेस करीब बीस मिनट तक खड़ी रही, वहीं अन्य एक्सप्रेस ट्रेनों को भी दो से तीन घंटे तक रोका गया। दोपहर करीब 2:40 बजे मरम्मत कार्य पूरा होने पर तीनों प्लेटफार्म पर ट्रेनों का संचालन बहाल हो सका। इसके बाद अन्य प्लेटफार्मों पर ट्रेनों का दबाव कम होने पर सुचारु संचालन शुरू हो सका। मौके पर पहुंचे डीआरएम ने भी मरम्मत कार्य का जायजा लिया और हादसे के कारणों की जांच शुरू कराई है। माना जा रह है कि डायवर्जन प्वाइंट (कैंची) पर गड़बड़ी की वजह से ट्रेन के कोच डिरेल हुए हैं।  
ये ट्रेनें हुईं विलंबित
बुधवार की सुबह लखनऊ से आ रही मेमू के दो कोच प्लेटफार्म नंबर-3 पर पटरी से उतरने के चलते सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का संचालन प्रभावित हो गया। सुबह करीब सात बजे आई पुष्पक एक्सप्रेस को रोक दिया, करीब पौने तीन घंटे बाद 9:40 बजे रवाना किया गया। वहीं 7:55 बजे आई ऊंचाहार एक्सप्रेस साढ़े दस बजे तक खड़ी थी। लखनऊ-कासगंज पैसेंजर को गंगा पुल से पहले रोक दिया गया। इसके अलावा कई ट्रेनों को आउटर पर रोकने के बाद रवाना कराया गया। 

प्लेटफार्म नंबर-2,3 व 4 रहे बंद
कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन पर प्लेटफार्म नंबर-3 पर हादसे के बाद दो और चार भी बंद कर दिए गए। इनपर कोई भी ट्रेन न लिए जाने से अन्य प्लेटफार्मों पर दबाव बढ़ गया है। इसके चलते आउटर पर ट्रेन को रोकने के बाद प्लेटफार्म खाली होने पर लिया जा रहा है। इससे आने वाली ट्रेनें विलंबित हो रही हैं। वहीं अन्य प्लेटफार्मों पर लगातार ट्रेनों के आने से यात्रियों की भीड़ बनी हुई है। ट्रेन संचालन व्यवस्था सुचारु रखने के लिए रेलवे अधिकारी मशक्कत करते रहे। 
प्लेटफार्म पर ट्रेन संचालन बंद रहा
मेमू के कोच पटरी से उतरने के कारण ओएचई पोल और दो लोकेशन बॉक्स समेत पानी पाइप लाइन भी क्षतिग्रस्त हो गई। ओएचई पोल टूटने से विद्युत आपूर्ति बंद कर दी गई। इससे अन्य दो प्लेटफार्म पर ट्रेनों का आवागमन रुक गया। वहीं डाइवर्जन प्वाइंट से कोच पटरी से उतरने की आशंका के कारण भी प्लेटफार्म नंबर दो और चार पर टे्रनों को नहीं लिया। 

क्षतिग्रस्त कोच हटाने की मशक्कत
प्लेटफार्म पर लखनऊ मेमू के दो कोच पटरी से उतरने के बाद राहत कार्य तत्काल शुरू कर दिया। ट्रेने के आगे और पीछे के हिस्से में सभी कोच खींच लिए गए। पटरी से उतरे कोच को चढ़ाने की मशक्कत शुरू की गई। रेलवे तकनीकी टीम क्षतिग्रस्त कोच को प्लेटफार्म से हटाया। साथ ही ओएचई मरम्मत और पटरी मरम्मत कराई। स्टेशन अधीक्षक हिमांशु शेखर उपाध्याय समेत रेलवे की टीम मौके पर मौजूद रहे।
यह भी पढ़ें : कानपुर में लखनऊ मेमू ट्रेन के दो कोच पटरी से उतरे, मची अफरातफरी

Posted By: Umesh Tiwari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप