फतेहपुर, जागरण संवाददाता। Fatehpur Accident बांदा-टांडा हाईवे में बहुआ चौराहे को पार करते समय शुक्रवार सुबह तेज रफ्तार मौरंग लदे ट्रक से कुचलकर 14 वर्षीय छात्रा अनुराधा की मौत हो गई। खबर मिलते ही पुलिस ने चालक को पकड़कर चौकी में बैठा लिया। जिससे बवाल हो गया।

गुस्साए भीड़ बहुआ पुलिस चौकी के भीतर घुसकर महत्वपूर्ण अभिलेख फाड़ दिए। चालक को पकड़कर चौकी से बाहर ले आई और उसे जमकर पीटा। बांदा-टांडा हाईवे पर जाम लगा दिया। भीड़ ने ट्रक में तोड़फोड़ कर चौकी में पथराव कर दिया जिससे चौकी परिसर में लगे शीशे चकनाचूर हो गए।

चालक को बचाने में भीड़ ने चौकी प्रभारी अविनाश मिश्रा व सिपाही प्रदीप कुमार को पीट दिया। खबर पाकर पहुंचे एसडीएम अवधेश निगम व सीओ जाफरगंज अनिल कुमार ने भीड़ को शांत कराया, तब तीन घंटे बाद हाईवे बहाल हो सका।

ललौली क्षेत्र के सुजानपुर गांव निवासी राजुमार रैदास की पुत्री अनुराधा कक्षा नौ में बहुआ इंटर कालेज में पढ़ती थी। सुबह साढ़े सात बजे वह साइकिल से स्कूल पढ़ने जा रही थी। बहुआ चौराहा क्रास करते समय सामने से तेज रफ्तार में आ रहे ट्रक ने उसे कुचल दिया जिससे छात्रा की मौत हो गई।

हादसे की खबर मिलते ही मां गीता देवी, भाई लालचंद्र व चंद्रपकाश बेहाल रहे। सीओ अनिल कुमार ने बताया कि हाईवे से जाम हट गया है, चालक को अस्पताल भेजा गया है। तहरीर मिलने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

...तो गुस्साई भीड़ चालक की कर देती हत्या- छात्रा की मौत के बाद भीड़ इतनी गुस्से में थी कि वह बहुआ चौकी के भीतर घुसकर सुल्तानपुर जिले के कुंडवार क्षेत्र के राबबिया चौराहा में रहने वाले ट्रक चालक जितेंद्र कुमार को बाहर निकाल लाई और उसे जमकर पीटा जिससे वह बेहोशी हालत में हो गया। जिसे जिला अस्पताल से लाला लाजपत राय, हास्पिटल कानपुर रेफर कर दिया गया है।

बवाल बढ़ने की आशंका पर स्वाट टीम पहुंची- गुस्साए ग्रामीणों द्वारा बवाल करने पर एसडीएम व सीओ के साथ स्वाट (स्पेशल वेपंस एंड टैक्टिक्स )प्रथम विनोद मिश्र व स्वाट द्वितीय प्रभारी विन्ध्यवासिनी तिवारी के साथ गाजीपुर थाना प्रभारी आनंद पाल सिंह व ललौली एसओ आलोक पांडेय पुलिस बल के साथ पहुंच गए थे। प्रशासनिक अफसरों के साथ पुलिस टीम गुस्साई भीड़ को समझाने में जुट गई थी। 

Edited By: Nitesh Mishra