कानपुर, जेएनएन। चौबिया थाना क्षेत्र के ग्राम अगूपुर-गोपालपुरमें शुक्रवार रात महिला मित्र से मिलने आए युवक को महिला के स्वजन ने पेड़ से बांध लाठी-डंडों से पीट-पीटकर हत्या कर दी। हमलावर ने सबूत नष्ट करने के लिए शव को दरवाजे के सामने लाकर भूसे के कूप में केरोसिन डालकर जलाने की फिराक में थे, लेकिन सुबह होने और चहल-पहल होने पर ऐसा न कर सके। आरोपित घटना के बाद भाग निकले। पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर गांव में पुलिस तैनात कर दी है। अनिल के पिता ने आरोपितों पर घर से बुलाकर मार डालने का मुकदमा दर्ज कराया है।

पुलिस के मुताबिक जिला मैनपुरी कुर्रा थाना क्षेत्र के नगला वीरे निवासी 35 वर्षीय अनिल यादव का अगूपुर-गोपालपुर में आना-जाना था। वह कंपाइन मशीन (गेहूं कटाई मशीन) चलाने के साथ ही कथा वाचक का भी काम करता था। दो साल से जान-पहचान होने से गांव की एक महिला के घर आता-जाता था। शुक्रवार रात वह महिला से मिलने आया था। इसकी भनक महिला के स्वजन को लग गई और उन्होंने घेर लिया। अनिल बचने के लिए छत पर भागा और पीछे की ओर कूद गया। उसको पकडऩे के बाद बबूल के पेड़ से साड़ी से बांधकर लाठी-डंडे से इतना पीटा कि उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद शव घर के दरवाजे के सामने डाल दिया गया।

घटना की जानकारी पर एएसपी ग्रामीण ओमवीर सिंह, सीओ साधुराम शनिवार सुबह घटनास्थल पहुंचे। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

प्राथमिक जांच में मामला अवैध संबंधों का लग रहा है। थाना प्रभारी मुकेश कुमार सोलंकी ने बताया कि घटनास्थल से दिवंगत युवक के जूते व बेल्ट मिली है। उन्होंने बताया कि अनिल के पिता इंद्रपाल सिंह यादव की तहरीर पर अगूपुर गोपालपुर गांव के सचिन व आदेश, दीपक, धर्मवीर सिंह, विनोद सिंह, अजय और एक अज्ञात के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है। उनका आरोप है कि शुक्रवार को वह लोग घर से पैसे का हिसाब-किताब करने के बहाने बाइक से लाए थे।  

Edited By: Akash Dwivedi