कानपुर, जेएनएन। महाशिवरात्रि पर भगवान भोलेनाथ के दर्शन व पूजन करने के लिए भक्त तड़के से ही मंदिरों में पहुंच गए। पट खुलते ही सभी बाबा का जयकारा लगाते हुए पूजन अर्चन करने लगे। शहर के सभी शिव मंदिरों में बोल बम और घंटों की गूंज सुनाई दे रही थी। भक्त भोले बाबा को का जलाभिषेक करने के लिए कतारों में खड़े होकर आगे बढ़ रहे थे। कोई सुनहरे भविष्य तो कोई सुख-समृद्धि की महादेव से प्रार्थना कर रहा है। शिवालय हर- हर महादेव के जयघोष से गूंज रहे थे।

लाइन में लगकर इंतजार कर रहे भक्त

शहर के आनंदेश्वर मंदिर, सिद्धनाथ मंदिर, खेरेश्वर, बनखंडेश्वर, जागेश्वर व अन्य शिव मंदिरों में भक्तों की भीड़ का आलम ये था कि वहीं तिल रखने तक की जगह नहीं थी। इसके बावजूद भक्तों का जोश कम नहीं था और वह बाबा का पूजन करने के लिए अपनी बारी का इंतजार कर रहे थे। बिल्वपत्र, धतूरा, फूल, कमलगट्टे आदि चढ़ाकर महादेव से सुख-समृद्धि की प्रार्थना की जा रही है। सुबह से ही कांवर चढ़ाने वालों का तांता शिवालयों में लगा हुआ है।

शिव बरात में नाचे भूत-पिशाच

वहीं शहर के कई स्थानों से शिव बरात भी निकाली गई। उनकी इस बरात में देवी देवताओं के साथ भूत पिशाच भी शामिल थे। बरात के साथ चल रहे भक्त बमभोले का जयकारा लगा रहे थे। वहीं तमाम भक्त बैंडबाजों की धुन पर नाचते हुए चल रहे थे।

 

Posted By: Abhishek

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस