कानपुर, जागरण संवाददाता। कानपुर-लखनऊ रेलवे रूट के दैनिक यात्रियों की मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही है। निरस्त ट्रेनों की वजह से परेशान इन यात्रियों को अब 30 अप्रैल तक और इंतजार करना पड़ेगा। यह ट्रेनें लंबे समय से निरस्त चल रही हैं।
उत्तर मध्य रेलवे द्वारा पिछले दिनों बड़ी संख्या में मेमू ट्रेनों को 15 अप्रैल तक निरस्त कर दिया था। माना जा रहा था कि 16 अप्रैल से ट्रेनें अपने नियमित सफर पर दौड़ेंगी, पर यह इंतजार अब और लंबा होगा। रेलवे ने 11 मेमू सहित 13 ट्रेनों को 30 अप्रैल तक निरस्त कर दिया है।
ये ट्रेनें की गईं निरस्त

  • ट्रेन संख्या 64163 कानपुर-पनकी।
  • ट्रेन संख्या 64207 लखनऊ-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 64212 कानपुर-लखनऊ।
  • ट्रेन संख्या 64210 कानपुर-लखनऊ।
  • ट्रेन संख्या 64205 लखनऊ-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 64213 लखनऊ-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 64254 कानपुर-लखनऊ।
  • ट्रेन संख्या 54211 रायबरेली-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 54212 कानपुर-रायबरेली।
  • ट्रेन संख्या 64208 कानपुर-लखनऊ।
  • ट्रेन संख्या 64209 लखनऊ-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 64235 बाराबंकी-कानपुर।
  • ट्रेन संख्या 64236 कानपुर बाराबंकी।
  • ट्रेन संख्या 64260 पनकी-लखनऊ पनकी से कानपुर के बीच आंशिक निरस्त।

आगरा इंटरसिटी 30 अप्रैल तक नहीं आएगी
आगरा से लखनऊ के बीच चलने वाली महत्वपूर्ण ट्रेन इंटरसिटी एक्सप्रेस भी 30 अप्रैल तक नहीं चलेगी। इसके अलावा कटिहार से दिल्ली के बीच चलने वाली ट्रेन भी इसी समयावधि में नहीं चलेगी।
दस ट्रेनों में लगेंगे अतिरिक्त कोच
ट्रेनों में भीड़भाड़ को देखते हुए पूर्वोत्तर रेलवे ने दस ट्रेनों में अतिरिक्त एक शयनयान कोच लगाने का फैसला लिया है। अनवरगंज से गोरखपुर जाने वाली चौरीचौरा एक्सप्रेस, गोरखपुर-पनवेल, बांद्रा-गोरखपुर, छपरा-लखनऊ और गोरखपुर-सिकंदराबाद की अपडाउन ट्रेनों में कोच की संख्या बढ़ाई गई है। 

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप