कानपुर, जेएनएन। हैलट के कोविड-19 हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती जमातियों ने फिर से हंगामा किया। दोपहर का खाना मिलते ही भड़क गए। खाने की थाली में लात मार दी। तीसरी मंजिल पर स्थित वार्ड में खाना देने गए वार्ड ब्वॉय को मारने के लिए दौड़े तो वह किसी तरह वहां से भागा। जमाती पीछे-पीछे नीचे तक उतर आए। वार्ड ब्वॉय ने पूरे घटनाक्रम से अस्पताल प्रशासन को अवगत कराया। अधिकारियों के मुताबिक जमातियों का कहना है कि रोज मेन्यू बदल कर खाना दिया जाए। एक तरह का खाना खाते-खाते ऊब गए हैं।

हैलट के कोविड-19 हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में कोरोना संक्रमित जमाती, उनके संपर्क में आए लोग और मदरसा छात्र भर्ती हैं, जिनकी संख्या 60 है। इसमें आधे मरीज तीसरी मंजिल पर स्थित वार्ड में भर्ती हैं। यहां भर्ती सभी मरीजों को सुबह चाय-नाश्ता से लेकर दोनों समय भोजन का प्रबंध किया गया है। साथ में मिनरल वॉटर और फल भी दिए जा रहे हैं।

शनिवार दोपहर वार्ड ब्वॉय अजय कुशवाहा उन्हें खाना देने गया था। वार्ड के बाहर जैसे ही उसने खाने की पैक्ड थाली रखी, 20-25 जमाती और अन्य बाहर निकल आए। वार्ड ब्वॉय का आरोप है कि जब उसने कहा कि जो मिला है वही खाना होगा। इस पर कुछ जमातियों ने थाली में लात मार दी, जबकि कुछ ने थाली फेंक दी। वार्ड ब्वॉय ने ऐसा करने से मना किया मारने के लिए दौड़ पड़े। उसने इसकी सूचना व्यवस्था देख रहे इमरजेंसी प्रभारी डॉ. विनय कटियार को दी। उन्होंने हैलट के प्रमुख अधीक्षक प्रो. आरके मौर्या को मामले से अवगत कराया।

पुलिस की मौजूदगी में मिलेगा खाना

प्रो. मौर्य ने बताया कि जमाती ऐसा व्यवहार कर रहे हैं जैसे वह अस्पताल में नहीं होटल में हैं। बदल-बदल कर मेन्यू के हिसाब से खाना मांग रहे हैं। स्वरूप नगर पुलिस से शिकायत की है। अब रविवार से पुलिस की मौजूदगी में उन्हें खाना दिया जाएगा।

Edited By: Abhishek Agnihotri