कानपुर, जेएनएन। कोविड प्रोटोकॉल का सही से पालन नहीं करने के चलते कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। जिले में सोमवार को 235 नए संक्रमित मिले हैं। उनमें से कुछ की स्थिति गंभीर है। कुल एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 1253 हो गई है। जबकि मृतकों की संख्या 855 हो गई है।

रेलवे कर्मी परिवार समेत संक्रमित

कानपुर सेंट्रल पर तैनात परिचालन से जुड़े कर्मचारी व उनका पूरा परिवार कोरोना संक्रमित हो गया। वहीं सेंट्रल स्टेशन के सिटी साइड पर कराए गए कोरोना टेस्ट में छह यात्री संक्रमित मिले हैैं। पांच जबलपुर एक्सप्रेस से आ रहे थे एक पुष्पक एक्सप्रेस से आ रहा था।

एसडीएम कोर्ट का लिपिक हुआ संक्रमित : एसडीएम सदर श्रीलक्ष्मी वीएस की कोर्ट में तैनात लिपिक भी कोरोना संक्रमित हो गया। रविवार को जांच कराई गई थी। सुबह रिपोर्ट आने के बाद कोर्ट को दो दिनों के लिए बंद कर दिया गया।

यहां मिले संक्रमित

यह केस काकादेव, कुली बाजार, आनंद नगर, तिलक नगर, रामबाग, पांडु नगर, लाल बंगला, चमनगंज, बिरहाना रोड, अशोक नगर, आइआइटी, नारामऊ, ग्वालटोली, हरजिंदर नगर, खलासी लाइन, हूलागंज, कैंट, चटाई मोहाल, शारदा नगर, शिवाजी नगर, श्याम नगर, अर्मापुर आदि क्षेत्रों से आए हैं।

सर्विलांस अभियान जारी

शहरी क्षेत्र में 271 टीमों ने 15911 घरों का सर्वे किया, जिसमें से 131 व्यक्तियों को चिह्नित किया गया। 123 के सैंपल लिए गए। ग्रामीण क्षेत्रों में 479 टीमों ने 20373 घरों का सर्वे किया। 179 व्यक्तियों के नमूने लिए।

झकरकटी पर मिले नौ संक्रमित

झकरकटी बस अड्डे पर 387 यात्रियों की जांच की गई, जिसमें से नौ संक्रमित मिले हैं। एआरएम राजेश ङ्क्षसह ने बताया कि कोरोना संक्रमितों को हैलट अस्पताल भेजा गया है। अब तक 29 पॉजिटिव मिल चुके हैं।

कोरोना संक्रमित के तलाशे जाएंगे 25 कॉनटेक्ट

कोरोना संक्रमण की रफ्तार बढऩे पर पुलिस, प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने कांटेक्ट ट्रेसिंग (संपर्क अनुरेखण) बढ़ाने की तैयारी की है। एक संक्रमित के 25 कॉनटेक्ट तलाशे जाएंगे। मौजूदा समय में 15 कॉनटेक्ट देखे जा रहे हैं। सोमवार देर शाम मंडलायुक्त डॉ. राजशेखर ने डीएम आलोक तिवारी, नगर आयुक्त अक्ष्य त्रिपाठी, अपर निदेशक चिकित्सा एवं परिवार कल्याण डॉ. जीके मिश्रा, सीएमओ डॉ. अनिल मिश्रा समेत अन्य अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने संक्रमण को रोकने की तैयारियों की समीक्षा की। कोरोना वैक्सीन केंद्रों में सुविधाएं बढ़ाने और सरकारी अस्पतालों में व्यवस्थाएं रखने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि एंबुलेंस का परीक्षण किया जाए। उनकी व्यवस्थाएं दुरुस्त की जाएं। एंबुलेंस के लिए आने वाली कॉल की मॉनीटरिंग हो। सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की अनिवार्यता रहे। शारीरिक दूरी का पालन के साथ ही भीड़ को रोका जाए। नियमों का पालन न करने पर कार्रवाई हो। होम क्वारंटाइन हुए लोगों की नियमित मॉनीटङ्क्षरग की जाए। इसकी जिम्मेदारी नोडल अधिकारी स्वयं उठाएं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021