कानपुर, जेएनएन। जिले में रविवार को भाजपा जिलाध्यक्ष समेत 324 कोरोना पॉजिटिव पाए गए। इसमें दो महिलाओं व छह पुरुषों ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। शहर के छह कोविड हॉस्पिटल से 59 स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किए गए जबकि 219 होम आइसोलेशन पूर्ण कर स्वस्थ घोषित किए गए हैंं।

अबतक जिले में संक्रमितों की संख्या 12628 हो चुकी है। जिसमें से 370 की मौत और 8975 स्वस्थ हो चुके हैंं। एक्टिव केस 3283 हैं। सीएमओ डॉ. अनिल मिश्रा ने बताया कि रविवार को कोरोना से आठ लोगों की मौत हुई है। सभी पुरुष मरीज हाइपरटेंशन,निमोनिया, मधुमेह व एक्यूट रेस्पिरेट्री डिस्ट्रेस सिंड्रोम से पीडि़त थे।

भाजपा जिलाध्यक्ष भी संक्रमित

भाजपा उत्तर जिलाध्यक्ष सुनील बजाज भी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। दो दिन पहले उन्हेंं बुखार आया था। रविवार को उन्होंने रैपिड टेस्ट कराया, जिसमें वे पॉजिटिव आए। उन्हेंं होम क्वारंटाइन किया गया है।

व्यापारी नेता का कोरोना से निधन

व्यापारी नेता चौक सर्राफा कमेटी के पूर्व पदाधिकारी का कोरोना से निधन हो गया। उन्हेंं सात दिन पहले बुखार आया था। चार दिन पहले सांस लेने में दिक्कत पर हैलट ले जाया गया। बाद में स्वजन उन्हेंं निजी अस्पताल लेकर चले गए। रविवार को उन्होंने दम तोड़ दिया। उनके पुत्र को भी संक्रमण हो गया है।

जिला कारागार में फूटा कोरोना बम, 41 पॉजिटिव

जिला कारागार में रविवार को फिर से कोरोना बम फूटा। यहां पर एक साथ 41 बंदी संक्रमित पाए गए हैैं। अभी भी जेल में लगभग 1200 बंदियों के टेस्ट होने बाकी हैं। जिला कारागार में पिछले कई दिनों से कोरोना पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैैं। शुक्रवार तक इनकी संख्या 77 पहुंच गई थी। जेल अधीक्षक आरके जायसवाल ने बताया कि कैंप में 924 बंदियों का टेस्ट कराया गया है, जिसमें से 41 बंदी संक्रमित पाए गए। जेल में 70 महिला बंदी है, जिसमें से 20 को संक्रमण हुआ है। जेल में अब कुल संक्रमित बंदियों की संख्या 128 पहुंच गई है।

59 बने कोरोना विजेता

शहर के छह कोविड हॉस्पिटल से 59 संक्रमित कोविड-19 वायरस को हराकर कोरोना विजेता बने हैैं। उन्हेंं स्वस्थ होने के बाद तालियां बजाकर अस्पताल से विदा किया गया। इसमें नारायणा मेडिकल कॉलेज एवं हॉस्पिटल से 31, रामा मेडिकल कॉलेज से 12, हैलट अस्पताल से आठ, कांशीराम संयुक्त चिकित्सालय से पांच, जीटीबी हॉस्पिटल से चार और ईएसआई हॉस्पिटल जाजमऊ से एक मरीज शामिल हैंं।

कोरोना के इलाज को हैलट आए पांच जेआर

कोरोना के इलाज में मदद के लिए जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के हैलट अस्पताल को 10 जूनियर रेजीडेंट दूसरे मेडिकल कॉलेज मिल रहे है, जिसमें पांच जेआर आ चुके हैं। हैलट की प्रमुख अधीक्षक प्रो. रिचा गिरि ने बताया कि जल्द ही पांच और जेआर आएंगे। उनके आने से इलाज में मदद मिलेगी।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस