कानपुर, जेएनएन। इटावा जनपद के फ्रेंड्स कालोनी थाना अंतर्गत पचावली रोड पर पीतांबरा गेस्ट हाउस के सामने आबाद ऊसरा अड्डा स्थित कोचिंग सेंटर के हॉस्टल में शुक्रवार की सुबह एक प्रतियोगी छात्र ने जहरीला पदार्थ खाकर जान दे दी।

ऊसरा अड्डा में जेएस क्लासिक कोचिंग सेंटर निदेशक जनवेद सिंह के निर्देशन में आवासीय सुविधाओं के साथ संचालित है। कोचिंग सेंटर के हॉस्टल में रहकर छात्र प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करते हैं। मैनपुरी जिले के ग्राम रहचंदा किशनी का रहने वाला 20 वर्षीय सचिन यादव पुत्र सत्यवीर सिंह यादव एसएससी (कर्मचारी चयन आयोग) की परीक्षा की तैयारी कर रहा था। उसके साथ उसी के गांव और परिवार के बच्चे भी एक कमरे में रहकर कोचिंग पढ़ रहे हैं।

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे आशीष पुत्र आधार सिंह, प्रवीन पुत्र विनोद सिंह, विकास पुत्र जयवीर, सुवेंद्र पुत्र फूलेंद्र निवासीगण ग्राम रहचंदा ने बताया कि सचिन सुबह करीब आठ बजे शौचक्रिया के लिए गया था। इसके बाद वह किताब लेकर पढऩे के लिए बैठ गया और फिर सो गया। नजर पडऩे पर जब उसके मुंह से झाग निकलते देखा तो उसको तुरंत करीब साढ़े नौ बजे जिला अस्पताल ले गए, जहां डाक्टर ने मृत घोषित कर दिया। डाक्टर के मुताबिक सचिन ने कोई जहरीला पदार्थ खाया था, जिससे उसके मुंह से झाग निकल रहा था।

मथुरा में प्राइवेट कंपनी में नौकरी करने वाले सत्यवीर सिंह यादव का छोटा इकलौता बेटा था सचिन। जबकि दो बड़ी बेटियों में रोहिणी की शादी हो गयी और मोहनी शादी योग्य है। स्वजन खुदकुशी करने की वजह नहीं बता सके हैं। पुलिस वजह जानने के लिए जांच में जुटी है।

थाना प्रभारी निरीक्षक अनिल कुमार चौबे ने बताया कि सचिन यादव प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी को लेकर डिप्रेशन में था। इसी के चलते उसने खुदकुशी कर ली। हालांकि उसके साथ उसके चचेरे भाई भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे थे। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021