कानपुर, जेएनएन। कम संसाधनों के बीच पढ़ाई करने वाले परिषदीय विद्यालयों के बच्चे भी अब हाईटेक तरीके से पढ़ाए जाएंगे। भले ही अभी तक वह ब्लैकबोर्ड पर पढ़ाई करते रहे हों, पर अब जल्द वह 'स्मार्ट टीवी' पर पढ़ाई करते दिखेंगे। इन स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई को प्राथमिकता देने की दिशा में कदम बढ़ाते हुए शासन ने यह फैसला किया है। बुधवार को हुई स्कूल महानिदेशक बेसिक शिक्षा विभाग की वीडियो कांफ्रेंसिंग में यह निर्देश प्रदेश के सभी जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को दिए गए। जिले में सितंबर से स्कूलों के अंदर टीवी लगने की शुरुआत हो जाएगी। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी करने के निर्देश दे दिए गए हैं। विभागीय अफसरों का कहना है बेसिक शिक्षा का स्तर सुधारने के लिए यह प्रयास काफी कारगर सिद्ध होगा।

अच्छी छात्र संख्या व बेहतर शैक्षणिक माहौल वाले स्कूलों में संचालन

पहले चरण में उन स्कूलों में टीवी का संचालन होगा, जहां रोजाना छात्र संख्या 80 से 100 फीसद तक रहती है। इसके अलावा स्कूल का शैक्षणिक माहौल बेहतर हो। वहीं विभाग द्वारा कराई गई लर्निंग आउटकम परीक्षा में स्कूल का प्रदर्शन कैसा रहा, इसे भी आधार बनाया जाएगा। पहले चरण में एक स्कूल में एक टीवी लगेगा, जबकि दूसरे चरण में एक स्कूल के अंदर हर कक्षा में टीवी का संचालन होगा।

पेन ड्राइव समेत अन्य जरूरी उपकरण दिए जाएंगे

स्कूलों में स्मार्ट टीवी के साथ ही शिक्षकों को पेन ड्राइव, डाटा केबल एडाप्टर समेत अन्य जरूरी उपकरण भी दिए जाएंगे। ताकि जब वह बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाना चाहें तो अच्छे ढंग से पढ़ा सकें। इन स्कूलों में बिजली की आपूर्ति ठीक से हो, इसका ध्यान भी रखा जाएगा।

इनका ये है कहना

शासन की एक बेहतर योजना है, कि परिषदीय स्कूलों में स्मार्ट टीवी लगेंगे। जिले में सितंबर से इसकी शुरुआत हो जाएगी। इसके लिए जो तैयारियां करनी हैं, उस दिशा में काम शुरू कर दिया है।

-डॉ. पवन तिवारी, बीएसए  

Posted By: Abhishek Agnihotri

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस