कानपुर, जेएनएन। बिठूर में धर्मस्थल को लेकर विवाद दिन पर दिन गंभीर होता जा रहा है। शनिवार को इस मामले में उस वक्त तनाव पैदा हो गया, जब भाजपा विधायक अभिजीत सांगा के खिलाफ फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डाली गई। पुलिस ने इस प्रकरण में आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच  शुरू कर दी है। 

 बिठूर विधायक अभिजीत सिंह सांगा के खिलाफ रविवार को एक समुदाय विशेष के युवक ने फेसबुक पर धमकी, अभद्र टिप्पणी के साथ भड़काऊ पोस्ट कर दी। धार्मिक स्थल को लेकर पहले से ही तनाव में चल रहे माहौल में इस पोस्ट ने आग में घी का काम किया। मामले में देर शाम गौरी लक्खा चौबेपुर निवासी विधायक के मीडिया प्रभारी वैभव दीक्षित ने बिठूर थाने में मुकदमा दर्ज कराया। असल में बिठूर विधायक ने बिठूर थाना प्रभारी कौशलेंद्र सिंह द्वारा धार्मिक स्थल पर कराये जा रहे निर्माण कार्य को लेकर फटकार लगाई थी। विधायक के हस्तक्षेप के बाद काम बंद हो गया था। सूत्रों के मुताबिक एसओ बिठूर की भूमिका इस प्रकरण में संदिग्ध है। उन्होंने विधायक को डीआइजी के आदेश पर धार्मिक स्थल में निर्माण का तर्क दिया था, जबकि डीआइजी की ओर से ऐसा कोई आदेश उन्हें नहीं मिला। सवाल है कि आखिर एसओ ने ऐसा लापरवाही भरा बयान क्यों दिया। 

बिठूर थानाप्रभारी कौशलेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि विवादित फेसबुक पोस्ट किसी मोहम्मद वासिफ बरकाती के नाम से था, जिसमें धमकी भरे भड़काऊ शब्दों को लिखा गया था। तहरीर के आधार पर आरोपित युवक के खिलाफ धार्मिक भावनाओं को भड़काने व आइटी एक्ट की धाराओं में रिपोर्ट दर्ज की गई है। 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021