Move to Jagran APP

न्यू कानपुर सिटी के आसपास 70 बीघा अवैध प्लाटिंग पर गरजा बुलडोजर, 14 निर्माणाधीन भवन भी गिराए गए

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में बुधवार को कई अवैध निर्माणों पर बुलडोजर की कार्रवाई की गई। केडीए उपाध्यक्ष के आदेश पर जोन का एक दस्ता न्यू कानपुर सिटी के प्रस्तावित क्षेत्र में 70 बीघा जमीन पर बिना लेआउट हो रही प्लाटिंग को ध्वस्त किया। साथ ही 14 निर्माणाधीन भवनों को भी गिराया गया। बता दें डेढ़ साल पहले 17 निर्माण सील किए गए थे।

By rahul shukla Edited By: Abhishek Pandey Thu, 11 Jul 2024 11:06 AM (IST)
न्यू कानपुर सिटी के आसपास 70 बीघा अवैध प्लाटिंग पर गरजा बुलडोजर, 14 निर्माणाधीन भवन भी गिराए गए
केडीए द्वारा न्यू कानपुर सिटी स्थित अवैध प्लाटिंग को तोड़ा गया । केडीए

जागरण संवाददाता, कानपुर। केडीए न्यू कानपुर सिटी योजना को धरातल पर लाने के लिए संजीदा नजर आ रहा है। न्यू कानपुर सिटी योजना में नक्शा स्वीकृति पर रोक लगी है लेकिन इसके बाद भी निर्माण हो रहे हैं। ऐसे में केडीए उपाध्यक्ष के आदेश पर बुधवार को जोन एक का दस्ता न्यू कानपुर सिटी के प्रस्तावित क्षेत्र में हो रही अवैध प्लाटिंग रोकने पहुंचा। दस्ते ने न्यू कानपुर सिटी के अलावा आसपास 70 बीघा जमीन पर बिना लेआउट हो रही प्लाटिंग को छह बैकहो लोडर लगाकर ध्वस्त करने के साथ ही 14 निर्माणाधीन भवन भी गिरा दिए।

मैनावती मार्ग से सिंहपुर तक और सिंहपुर से कल्याणपुर के बीच में केडीए ने वर्ष 1996 से न्यू कानपुर सिटी योजना लाने का प्रस्ताव बनाया था लेकिन ये ठंडे बस्ते में चली गई। दैनिक जागरण ने इसे प्रमुखता से उठाया तो फाइल में बंद योजना को बाहर लाया गया।

डेढ़ साल पहले 17 निर्माण किए गए थे सील

भूमि अधिग्रहण के लिए धन उपलब्ध है और विकास के लिए भी धन है। हालांकि प्रवर्तन दस्ते की ढिलाई के चलते लोगों ने रोक के बाद भी न्यू कानपुर सिटी योजना में प्लाटिंग के साथ निर्माण करा लिए हैं। डेढ़ साल पहले एक दिन में 17 निर्माण सील किए गए थे, जिसके बाद अफसर शांत होकर बैठ गए। अब हालत ये है कि चारों तरफ तेजी से निर्माण हो रहे हैं।

उपाध्यक्ष मदन सिंह गर्ब्याल के आदेश पर जोन एक का कार्यभार संभालने वाले विशेष कार्याधिकारी सत शुक्ल बुधवार को टीम लेकर न्यू कानपुर सिटी योजना पहुंचे। यहां आलोक कटियार, शहजादे लाल और हरिशंकर द्वारा गंगपुर केडीए ग्रीन्स के पीछे आराजी संख्या दो, अजय यादव व भूपेंद्र भदौरिया द्वारा सिंहपुर कछार में आराजी संख्या 757 और हरिकिशन कठेरिया, राम खिलावन और अशोक कुमार द्वारा सिंहपुर कछार में आराजी संख्या 787 में स्थित 28 बीघा में अवैध प्लाटिंग करने के साथ ही सड़कें, नाली, सीमेंट के खंभे व बाउंड्रीवाल व अन्य निर्माण कर रखा था। दस्ते ने इसको गिरा दिया। साथ ही छह निर्माणाधीन भवन भी गिरा दिए।

इस दौरान लोगों ने विरोध करने का प्रयास किया लेकिन पुलिस ने खदेड़ दिया। इसके अलावा दस्ते ने बैराज मुख्य मार्ग पर बिठूर, हिंदूपुर क्षेत्र में लगभग 42 बीघा जमीन पर अवैध प्लाटिंग ध्वस्त कर दी और आठ निर्माणाधीन भवन भी गिराए।

हाकिम सिंह द्वारा हिंदूपुर नया डल्लापुरवा बिठूर में आराजी संख्या 510, 511 और किशोर निषाद द्वारा हिंदूपुर नया डल्लापुरवा बिठूर में आराजी संख्या 505, 506(क), 507, 579, 580, 581, 582, 599, 600 में अवैध प्लाटिंग कर रख थी और आठ निर्माणाधीन भवन बन रहे थे। सभी को गिरा दिया गया। सहायक अभियंता संदीप मोदनवाल, क्षेत्रीय अभियंता जनार्दन सिंह और कैलाश सिंह मौजूद रहे।

किसी भी हाल में न्यू कानपुर सिटी योजना में प्लाटिंग नहीं होने दी जाएगी। प्लाटिंग मिलने पर तोड़ने के साथ ही अन्य कार्रवाई की जाएगी। न्यू कानपुर सिटी में प्रस्तावित क्षेत्र में किसी भी प्रकार का निर्माण गतिविधि पूर्णतया प्रतिबंधित रहेगी। अवैध प्लाटिंग करने वालों पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा।- सत शुक्ला, विशेष कार्याधिकारी जोन एक केडीए

इसे भी पढ़ें: यूपी के इस शहर के लोगों के लिए खुशखबरी, अब अयोध्या जाकर रामलला के दर्शन कर उसी दिन आ सकेंगे वापस; कल से चलेंगी 30 बसें