कन्नौज, जेएनएन। जिले की चपुन्ना चौकी क्षेत्र के एक गांव में शादी समारोह में उस समय हलचल मच गई, जब दुल्हन ने फेरे से पहले नहा रहे दूल्हे को देखने के बाद शादी से इंकार कर दिया। बरातियों और जनातियों के काफी मान मनौव्वल के बाद भी दुल्हन नहीं मानी तो मामला चौकी तक पहुंच गया। सुबह तक वर और कन्या पक्ष के लोगों के बीच समझौता वार्ता चलती रही।

चपुन्ना चौकी के गांव में रहने वाली युवती की शादी फिरोजाबाद जनपद के ग्राम निवासी युवक से तय हुई। बुधवार को दूल्हा परिजनों के साथ बरात लेकर युवती के गांव आया था। देर रात बरातियों के स्वागत और द्वारचार की रस्म अदा की गई। इसके बाद दूल्हा स्टेज पर लाया गया और जयमाल की रस्म पूरी की गई। इसके बाद चढ़ावा और फेरे की रस्म पूरी की जानी थी।

फेरे से पहले दूल्हा नहाने पहुंचा। दूल्हे नहाते हुए दुल्हन ने चुपके से देख लिया। इसके बाद दुल्हन ने दूल्हे का पैर टूटा होने व हरकतों से मंदबुद्धि होने की बात कहते हुए शादी करने से इंकार कर दिया। इसकी जानकारी जैसे ही जनातियों और बरातियों को हुई तो हड़कंप मच गया। कन्या और वर पक्ष के बुजुर्ग लोग दुल्हन को समझाने का प्रयास करते रहे। दुल्हन ने किसी की नहीं सुनी और पिता से बरात वापस कर देने की बात कही। उसने पिता से ऐसे युवक से शादी न कराने को कहा। इसपर दोनों पक्षों के बीच कहासुनी शुरू होने पर मामला पुलिस तक पहुंच गया।

चपुन्ना चौकी इंचार्ज ओमबाबू तिवारी गांव पहुंच गए और विवाद देखते हुए दोनो पक्षों को चौकी ले आये। चौकी इंचार्ज ने बताया कि दुल्हन शादी न करने की बात पर अड़ी रही, उसका कहना है कि पैर टूटा होने के अलावा लड़का मंदबुद्धि भी है। पिता ने इसकी जानकारी शादी के समय नहीं दी। वर पक्ष ने जेवर व अन्य सामान वापस कराने की बात रखी है। थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह ने बताया कि दोनों पक्षों में समझौता न होने पर तहरीर के आधार पर रिपोर्ट दर्ज की जाएगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप