जागरण संवाददाता, कानपुर : चिड़ियाघर में वन्य जीवों के साथ आकर्षण का केंद्र बाल ट्रेन का संचालन सात माह बाद एक बार फिर शनिवार से शुरू हो जाएगा। दर्शक एक बार फिर से बाल ट्रेन में बैठकर वन्य जीवों का दीदार कर सकेंगे। बाल ट्रेन का पांच करोड़ रुपये का बीमा होने की प्रक्रिया पूरी होने के बाद शुक्रवार को चिड़ियाघर प्रशासन ने बैट्री के बजाय सीएनजी से बाल ट्रेन को चलाकर परीक्षण किया। अधिकारियों ने सबकुछ ठीक मिलने पर बाल ट्रेन को शनिवार से चलाने के लिए हरी झंडी दे दी। दैनिक जागरण ने 26 जनवरी के अंक में पहले बाल ट्रेन का होगा बीमा फिर दौड़ेगी ट्रैक पर शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। जिस पर संज्ञान लेते हुए चिड़ियाघर प्रशासन ने प्रक्रिया जल्द पूरी करा दी।

----------

ट्रेन हादसा होने पर बीमा राशि से होगी भरपाई

कानपुर : बाल ट्रेन में चार बोगियां हैं। यह दो किमी के दायरे में दिन भर में औसतन तीन सौ लोगों को सफर कराती थी। रेल में एक बार में 84 लोगों को सफर कराने की क्षमता है। अब बीमा होने के बाद ट्रेन में कोई भी हादसा होता है तो उसके नुकसान की भरपाई बीमा की राशि से होगी।

----------

चिड़ियाघर में बाल रेल का बीमा कराने की प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। फरवरी के पहले सप्ताह में बाल ट्रेन चलाने का प्रयास था। शुक्रवार को बैट्री के बजाय सीएनजी से बाल ट्रेन चलाकर परीक्षण किया गया। अब शनिवार से दर्शकों के लिए यह ट्रेन उपलब्ध हो सकेगी।

- एसएन मिश्रा, निदेशक, कानपुर प्राणी उद्यान

Edited By: Jagran