जागरण संवाददाता, कानपुर : पीएनजी लाइन का मैकेनिक बनकर तिलक नगर स्थित उर्वशी व चित्रकूट अपार्टमेंट के दो फ्लैट से लाखों की चोरी और आजाद नगर के वरुण अपार्टमेंट में सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य के फ्लैट से उनकी पत्नी पर हमला कर कंगन लूटने वाला बदमाश कंपनी बाग की ओर आया था। पुलिस ने रविवार को चिड़ियाघर चौराहे से लेकर पॉलीटेक्निक चौराहे तक लगे करीब 10 कैमरों की फुटेज खंगाली तो यह जानकारी मिली।

13 फरवरी की दोपहर साफा बांधे बाइक से आए बदमाश ने पीएनजी पाइप लाइन व मीटर ठीक करने के बहाने उर्वशी और चित्रकूट अपार्टमेंट में घुसकर किदवईनगर के कन्फेक्शनरी कारोबारी अभिषेक गुप्ता व नमामि गंगे का कार्य देख रही कंपनी के शिमला निवासी इंजीनियर गगन चौधरी के फ्लैट के ताले काटकर 1.10 लाख रुपये नकद समेत तीन लाख का माल पार कर दिया था। अगले दिन 14 फरवरी को उसी बदमाश ने आजादनगर के वरुण अपार्टमेंट में आइआइटी केंद्रीय विद्यालय के रिटायर्ड प्रधानाचार्य रमाकांत दीक्षित व उनकी पत्नी रमा पर सरिये से कातिलाना हमला कर रमा के कंगन लूट लिए थे।

लुटेरा दोनों स्थानों पर सीसीटीवी कैमरों में कैद हुआ था, लेकिन अब तक पुलिस उसका सुराग नहीं लगा सकी। रविवार को टीम ने वरुण अपार्टमेंट से लेकर विकासनगर तक और राजीव पेट्रोल पंप से लेकर सीएसए गेट तक लगे कैमरों की फुटेज देखी। उसमें दिखा कि 13 तारीख को चोरी करने के बाद लुटेरा बाइक से कंपनी बाग चौराहे पर आया और वहां से रावतपुर स्टेशन की ओर गया था। इसी तरह 14 तारीख को भी वह आजादनगर से नवाबगंज थाने की ओर आया।

--

मेट्रो कार्य ने बंद कर दिए कई कैमरे

मेट्रो निर्माण के लिए की गई खोदाई के चलते जीटी रोड पर लगे तमाम कैमरे भी बंद हो गए हैं। इसी वजह से पुलिस रावतपुर तिराहे पर लगे कैमरों की फुटेज नहीं देख सकी। पॉलीटेक्निक चौराहे पर लगे कैमरे की फुटेज निकलवाई लेकिन उसमें लुटेरा नहीं दिखा। माना जा रहा है कि लुटेरा काकादेव या फिर स्वरूपनगर क्षेत्र का ही रहने वाला है। इसलिए आसपास के क्षेत्रों के मुखबिरों की मदद ली जा रही है। थाना प्रभारी दिलीप बिंद ने बताया कि लुटेरे की तलाश में टीमें लगी हैं। कई संदिग्ध उठाए गए हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस