कानपुर, जेएनएन। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय सचिव जुबेर खान ने कहा है कि केंद्र की सरकार किसानों, युवाओं, व्यापारी सहित सभी वर्गों को गुलाम बनाना चाहती है। रविवार को शन्नैश्वर मंदिर चौराहा पर आयोजित कांग्रेस की सभा में उन्होंने महंगाई के लिए सरकार पर निशाना साधा और पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों पर विरोध दर्ज कराया।

कांग्रेस कमेटी की ओर से जर्जर सड़क के विरोध में सभा आयोजित की गई। एआइसीसी के राष्ट्रय सचिव जुबैर खान ने कहा कि 2014 के बाद से डीजल पेट्रोल के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। किसान से चार रुपये में प्याज खरीद कर बाजार में 40 से लेकर बेचा जा रहा है। स्मार्ट सिटी की घोषणा होने के बाद भी कल्याणपुर से शनेश्वर मंदिर तक की सड़क नहीं बन पाई है। यह तब है जब विधायक से लेकर पार्षद तक भाजपा के हैं। कहा, सीबीआई, चुनाव आयोग, डिग्री कॉलेज, आईआईटी, पालीटेक्निक सहित अन्य प्रतिष्ठान को खत्म करने में तुली है। उन्होंने कहा कि जिन महापुरुषों ने देश के लिए कुर्बानी दी थी। आज उनके परिवार से भाजपा की सरकार उनसे प्रमाण पत्र मांग रही है।

सभा में अतीक अहमद ने कहा कि केंद्र की सरकार किसान विरोधी है। जनसमस्या को लेकर आंदोलन करते हैं तो सरकार दबाव बनाती है। अभिनव तिवारी ने कहा कि देश की सरकार से जनता पीड़ित हैं। पहले जो नीतियां बनी वह जनता को ध्यान में रखकर बनाई गईं लेकिन अब पूंजीपतियों के लिए नीतियां बनाई जा रही हैं। कांग्रेस नेता राजीव द्विवेदी ने कहा कि रोजाना सड़क पर लोग गिरकर घायल हो रहे हैं, जब सड़क बनवाने की क्षमता नहीं थी तो विधायक बनने के लिए नामांकन नहीं करना चाहिए था। कनिष्क पांडेय ने कहा कि सरकार निरंतर हमें आपस मे लड़वा रही है और मूल मुद्दों से दूर जाते जा रहे हैं। युवाओं, किसान, व्यापरियों सहित सभी वर्ग प्रभावित हैं। शैलेंद्र दीक्षित ने कहा कि जुमलेबाज सरकार को जनता जवाब देगी। यहां पूर्व विधायक संजीव दरियाबादी, उत्तर जिलाध्यक्ष नौशाद आलम मंसूरी, करिश्मा ठाकुर, रंतिदेव वाजपेई आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021