कानपुर, जेएनएन। गोविंदनगर में लव जिहाद का एक मामला सामने आने पर हंगामा मच गया। प्रेम जाल में युवती को फंसा दूसरे धर्म के युवक साथ ले गया। छह दिन बाद भी सुराग न लगने पर स्वजन व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने थाने में हंगामा किया तो पुलिस ने युवक के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज की।

गोविंद नगर निवासी राजमिस्त्री के परिवार में पत्नी, चार बेटियां व एक बेटा हैं। दो बेटियों की शादी कर चुके हैं। 17 जनवरी को दंपती काम पर गए थे। घर पर 22 वर्षीय बेटी और 11 वर्षीय बेटा थे। बेटी दोपहर में कुछ सामान लेने निकली थी, उसके बाद नहीं लौटी। दंपती लौटे तो बेटी को फोन किया। उसने थोड़ी देर में आने की बात कही। रात तक घर न लौटने और बेटी का फोन स्विच ऑफ होने पर स्वजन ने थाने में तहरीर दी। पुलिस ने आसपास लोगों से पूछताछ शुरू की तो पड़ोस के युवक ने बताया कि उसके घर पर एक इशरार नाम के युवक का आना जाना था। उसने युवती के इशरार के साथ जाने की जानकारी दी। पुलिस ने इशरार के घर और संपर्क के लोगों के बारे में पूछा तो पड़ोसी जानकारी नहीं दे सका।

पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई नहीं होने पर युवती के स्वजन ने बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को जानकारी दी। कार्यकर्ताओं ने रिपोर्ट न लिखे जाने पर थाने में हंगामा किया तब पुलिस ने अपहरण का मुकदमा लिखा। पुलिस ने पड़ोसी युवक को हिरासत में लिया है। थाना प्रभारी अनुराग मिश्र ने बताया कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। सर्विलांस के जरिए युवती के मोबाइल नंबर की लोकेशन ट्रेस करने के प्रयास जारी हैं। मतांतरण का मामला यदि सामने आया तो उसकी धारा में भी मुकदमा दर्ज किया जाएगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप