कानपुर, जेएनएन। तेज हवा चलने के बावजूद कोहरे का असर बना रहेगा, धूप भी दोपहर तक निकलेगी। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में उतार चढ़ाव रहेगा। अधिकतम तापमान के ज्यादा नीचे आने के आसार हैं। वातावरण में आर्द्रता बनी रहेगी। यह स्थिति दो से तीन दिन रह सकती है। शनिवार

की दोपहर तक जम्मू कश्मीर के नजदीक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय हो जाएगा, जिससे उत्तर पश्चिमी हवा के मैदानी क्षेत्रों में आने पर ब्रेक लग जायेगा। 

हरियाणा और पंजाब में ओलावृष्टि की आशंका 

चंद्रशेखर आजाद कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के मौसम विज्ञानी डॉ. एसएन सुनील पांडेय ने बताया कि पश्चिमी विक्षोभ से जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में बारिश व बर्फबारी होगी। पहाड़ो पर बर्फ के गिरने से शुष्क हवा दिल्ली, एनसी आर, पश्चिमी उत्तर प्रदेश में बारिश के आसार हैं। हरियाणा और पंजाब में ओलावृष्टि की आशंका है। शुक्रवार को अधिकतम तापमान 17.2 और न्यूनतम 7.6 रिकॉर्ड हुआ। एकदिन पहले अधिकतम तापमान 21.8 और न्यूनतम 10.4 डिग्री सेल्सियस था। अधिकतम आर्द्रता 97 फीसद रही। गुरुवार को 81 फीसद रिकॉर्ड हुई।हवा 5.6 किलोमीटर की रफ्तार से चली, जबकि एक दिन पहले 6.4 किलोमीटर थी। डॉ. पांडेय के मुताबिक न्यूनतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की वृद्धि होगी। 25 जनवरी से फिर सर्दी पड़ने लगेगी।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप