इटावा, जेएनएन। इटावा के बढ़पुरा थाना क्षेत्र के एक गांव में चार वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपित को पुलिस ने बुधवार की देर रात्रि चंबल पुल बॉर्डर के पास पुलिस मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लिया। मुठभेड़ के दौरान पुलिस की गोली आरोपित के पैर में लगी। उसे जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

सोमवार को थाना क्षेत्र के एक गांव में चार वर्षीय बालिका से दुष्कर्म के बाद पुलिस की तीन टीमें नामजद आरोपित की तलाश में लगी थीं। बुधवार की देर रात थाना बढ़पुरा प्रभारी जीवाराम उदी चौकी प्रभारी विवेक कुमार व क्राइम ब्रांच प्रभारी सतेंद्र यादव चंबल पुल बार्डर के समीप वाहनों की चेकिंग रहे थे तभी उदी गांव से चंबल नदी की ओर जाने वाले मार्ग पुलिस का आरोपित से आमना-सामना हुआ। पुलिस ने उसे रोका गया तो उसने पुलिस पर फायर कर दिया।

दूसरा फायर करने से पूर्व ही पुलिस ने जवाब में फायरिंग की जिससे उसके पैर में गोली लगी। 100 मीटर भागने के बाद वह गिर पड़ा। पुलिस ने उसे पकड़ लिया। पूछताछ में उसने अपना नाम अरुण पुत्र राजेश निवासी ग्राम बढ़पुरा थाना बढ़पुरा बताया। उसके पास से 315 बोर का तमंचा व कारतूस बरामद किया गया है।

उसने 18 जनवरी को चार वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म की घटना करने की बात स्वीकार की। उसने बताया कि बालिका के साथ सरसों के खेत में दुष्कर्म किया था। गांव के एक युवक ने उसको देख भी लिया था। उसके भागने पर युवक ने पीछा भी किया था लेकिन वह भाग गया था।

थाना बढ़पुरा प्रभारी जीवाराम ने बताया कि अरुण के खिलाफ धारा 376 आइपीसी व पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज किया गया था। अरुण शातिर किस्म का अपराधी है उसने वर्ष 2018 में पड़ोस के ही गांव की एक बालिका के साथ छेड़छाड़ की थी। जिसमें उसे जेल भेजा जा चुका है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप