कानपुर, जेएनएन। परिषदीय व उच्च परिषदीय विद्यालयों के बच्चों को बेसिक शिक्षा विभाग एक बार फिर से प्रमोट कर सकता है। दरअसल इन बच्चों की इस सत्र में ऑनलाइन पढ़ाई तो चलती रही, पर किसी तरह की कोई परीक्षाएं नहीं कराई गईं। ऐसे में शिक्षकों व विभाग के आला अफसरों ने संकेत दिए हैं, कि नए सत्र की शुरुआत से पहले इन बच्चों को अगली कक्षा के लिए प्रोन्नत कर दिया जाएगा। हालांकि अंतिम फैसला शासन का ही मान्य होगा। कोरोना महामारी के चलते मार्च में स्कूल बंद कर दिए गए थे। उसके बाद जब हालात बिगड़े तो सत्र शुरू करने से पहले शासन ने सभी बच्चों को प्रमोट करने का फैसला किया था।  

नए पाठ्यक्रम पर चर्चा शुरू 

बेसिक शिक्षा विभाग में नए पाठ्यक्रम को लेकर भी कवायद शुरू हो गई है। शिक्षकों को एनसीईआरटी का पाठ्यक्रम कैसे पढ़ाना है, इसके लिए प्रशिक्षित किया जाने लगा है। ऐसे में स्पष्ट है, कि जब स्कूल खुलेंगे तो सभी बच्चे नए पाठ्यक्रम को ही पढ़ेंगे। इससे भी उम्मीद लगाई जा सकती है, कि शासन के पास इन बच्चों को प्रमोट करने के अलावा किसी तरह का विकल्प नहीं होगा। 

इनका ये हे कहना 

 फिलहाल बच्चों की परीक्षाएं कराने को लेकर किसी तरह के निर्देश नहीं मिले हैं। साथ ही प्रमोट करने को लेकर भी कोई आदेश नहीं आया है। हालांकि अगली कक्षा में प्रोन्नत के अलावा कोई अन्य विकल्प नहीं है।  - डॉ.पवन तिवारी, बीएसए

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021