कानपुर, जेएनएन। शहर में बैंक ऑफ बड़ौदा के के शाखा प्रबंधक को अपनी ब्रांच के अधिकारियों और कर्मचारियों को छुट्टी देने से रोक दिया गया है। खासतौर पर यह व्यवस्था ग्रामीण क्षेत्र की शाखा में की गई है। कर्मचारियों को छुट्टी पर जाने से पूर्व अब कानपुर क्षेत्रीय कार्यालय से अनुमति लेनी होगी। इस आदेश के बाद से बैंक कर्मियों में रोष का माहौल बन गया है।

बैंक ऑफ बड़ौदा के क्षेत्रीय कार्यालय कानपुर के रीजनल हेड बीआर धीमान ने रिकवरी में कमी होने पर सभी शाखाओ को एक सर्कुलर निकाल कर अलग-अलग 19 शाखाओ को आदेश जारी किया है। अब अधिकारियों, कर्मचारियों के अवकाश की स्वीकृति जो पहले शाखा स्तर पर प्रबंधक की संस्तुति व अनुमोदन से होती थी वो अधिकार सभी शाखा प्रबंधकों से हटा कर क्षेत्रीय कार्यालय के मानव संसाधन प्रबंधक को दे दिए गए हैं।

अधिकारियों व कर्मचारियों ने इसका विरोध शुरू कर दिया है। उनके मुताबिक कृषि लोन में कमी के लिए सभी अवार्ड स्टाफ या अधिकारी को जिम्मेदार नही ठहराया जा सकता। उनको छुट्टी पर जाने से रोकने का रवैया ठीक नहीं है। है। वी बैंकर्स के महामंत्री आशीष मिश्रा ने कहा कि इस तरह के सर्कुलर बैंकिंग इंडस्ट्री के द्विपक्षीय समझौतो के नियमों के विपरीत है और कर्मचारियों के शोषण का तरीका है जिसका वी बैंकर्स औद्योगिक विवाद और प्रदर्शन करके पुरजोर विरोध करेगा।

Posted By: Abhishek

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप