संवाद सूत्र, ठठिया: प्राथमिक विद्यालय परिसर की चाहरदिवारी न होने से अवैध कब्जेदारों ने मवेशी का तबेला बना दिया। परिसर में कृषि यंत्र भी रखे हैं। इससे छात्रों की पढ़ाई प्रभावित और शिक्षकों को भी सरकारी कार्यों में दिक्कतें होती है।

थाना क्षेत्र के प्राथमिक विद्यालय इनायतपुर में चाहरदिवारी नहीं बनी है। इससे परिसर में खड़े पेड़ों की छाया में ग्रामीण मवेशी बांधते हैं। विद्यालय को ग्रामीणों ने मवेशी बाड़ा बना दिया और वहीं पर कृषि यंत्र भी रखे है। प्रधानाध्यापक नीतू पाल ने बताया कि परिसर में करीब 20 से 25 मवेशी बंधे रहते हैं। इससे काफी दिक्कतें होती है। छात्रों को खतरा बना रहता। इसको लेकर ग्रामीणों को हटाने के लिए कई बार कहा, लेकिन नहीं मानते। इसके साथ ही पुलिस को भी सूचना दी लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। विभागीय अधिकारियों से परिसर की चाहरदिवारी बनाने के लिए कहा गया लेकिन वहां पर भी हालात जस के तस है। प्रधान सुभाष दोहरे ने बताया कि आगामी कार्य योजना में प्रस्ताव कर विद्यालय की चाहरदिवारी का निर्माण करा दिया जाएगा।

--------

खंड शिक्षा अधिकारी को मौके पर भेजा जाएगा। ग्राम प्रधान का सहयोग लेकर कब्जा हटाने को उनसे अनुरोध किया जाएगा। नहीं मानने पर कानूनी कार्रवाई होगी।-दीपिका चतुर्वेदी, बीएसए।

Posted By: Jagran