संवाद सूत्र, गुरसहायगंज (कन्नौज): मानसिक मंदित किशोर पर छेड़खानी का आरोप लगा पिता-पुत्र ने उसे रस्सी से बांधकर बेरहमी से पीट दिया। इससे वह मरणासन्न हो गया। बेहोशी की हालत में उसे घर में बंद कर आरोपित भाग गए। पुलिस ने किशोर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां से उसे राजकीय मेडिकल कालेज तिर्वा रेफर कर दिया गया।

क्षेत्र के ग्राम डुड़वा बुजुर्ग निवासी शहनूर खां का 16 वर्षीय बेटा आमिर मानसिक मंदित है। वह अपने चाचा हाशिम के साथ रहता है। रविवार दोपहर हाशिम पत्नी के साथ दवा लेने के लिए गए थे। आमिर घर पर अकेला था। आरोप है कि आमिर ने पड़ोस में रहने वाली एक लड़की को पकड़ लिया और छेड़खानी की। यह लड़की के भाई ने देख लिया और आमिर को पकड़ लिया। पिता के साथ आमिर के हाथ-पैर रस्सी से बांध दिए और उसे लाठी-डंडों से बेरहमी से पीटा। वह मरणासन्न हो गया तो उसे बेहोशी की हालत में घर में बंद कर भाग गए। कुछ देर बाद हाशिम पहुंचे तो आमिर मरणासन्न मिला। पड़ोसियों ने पिटाई की बात बताई तो पुलिस को जानकारी दी। थानाध्यक्ष राजकुमार सिंह व चौकी प्रभारी सुरेशचंद्र पाल पहुंचे और आमिर को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया। हालत नाजुक होने पर उसे राजकीय मेडिकल कालेज तिर्वा भेजा गया। थानाध्यक्ष ने बताया कि अभी तहरीर नहीं मिली है। मुकदमा दर्ज कर आरोपितों पर कार्रवाई करेंगे।

-------

दारोगा को भी मार चुका थप्पड़

ग्रामीणों ने बताया कि पिछले सप्ताह गांव में एक मामले में डायल 112 पुलिस आई थी। उस दौरान आए दारोगा को आमिर ने थप्पड़ मारा था। इस पर पुलिस ने उसकी पिटाई की थी। बाद में ग्रामीणों ने उसके मानसिक दिव्यांग होना बताया तो पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की और उसे छोड़ दिया था।

Edited By: Jagran