संवाद सहयोगी, तिर्वा (कन्नौज) : राजकीय मेडिकल कॉलेज में मानवता को शर्मसार करने वाली घटना हुई। संक्रमित महिला की मौत के बाद सफाईकर्मी ने जेवर निकाल लिए। युवक की शिकायत के बाद पूछताछ हुई तो सफाईकर्मी ने ये बात कबूली और जेवर लौटाए।

राजकीय मेडिकल कॉलेज के आइसोलेशन वार्ड में शुक्रवार दोपहर सौरिख थानाक्षेत्र के गोरखपुर गांव निवासी 45 वर्षीय रूपादेवी पत्नी उमेश की मौत हो गई थी। शव को प्रोटेक्शन किट में पैक करने के बाद सफाईकर्मी ने शवगृह में रखा था। शव को किट में बंद करते समय सफाईकर्मी ने महिला के कानों से झुमकी, नाक का फूल व पायल निकाल ली। महिला के भतीजे राहुल भदौरिया की शिकायत पर मेडिकल कॉलेज प्रशासन ने सफाईकर्मी से पूछताछ की तो उसने जेवर लेने की बात कही और बताया कि जेवर स्वजन को देने के लिए निकाले थे, लेकिन उस वक्त मौके पर कोई नहीं था। इससे अपने काम में जुट गई थी। सफाईकर्मी को चेतावनी देकर जेवर वापस कराए गए। सीएमएस डॉ. दिलीप सिंह ने बताया कि अब बिना स्वजन के शव को किट में पैक नहीं कराया जाएगा। कर्मचारी पर कार्रवाई की जाएगी। जलालाबाद के इमाम चौक में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे

संवाद सूत्र, जलालाबाद (कन्नौज) : ईद से एक दिन पहले कस्बे में बच्चों ने पाकिस्तान जिदाबाद के नारे लगाए। मोहल्ले वालों ने पुलिस से शिकायत कर ऑडियो सुनाया। इसके बाद पुलिस हरकत में आई। हालांकि दैनिक जागरण इस ऑडियो की पुष्टि नहीं करता है।

मोहल्लावासियों का आरोप है कि जलालाबाद कस्बे में इमाम चौक पर गुरुवार रात करीब 10 बजे छत पर चढ़े लोगों ने पाकिस्तान जिदाबाद के नारे लगाए। ऑडियो की जानकारी पर चौकी पुलिस जांच करने पहुंची। जांच करने पहुंचे एसआइ प्रदीप कुमार को लोगों ने बताया कि कुछ लोगों ने दो बच्चों को उकसाया था। जिस कारण बच्चों ने यह नारा लगा दिया। उन्हें डांटा तो वह भाग गए। जसोदा चौकी प्रभारी अमित पोरवाल ने बताया कि वह अवकाश पर हैं। एसआइ प्रदीप कुमार मामले की जांच कर रहे हैं।