- वायरल त्वचा रोग, इसमें सावधानी आवश्यक

झाँसी : यदि आपकी गाय अथवा अन्य किसी जानवर को लम्पी रोग हो गया है तो घबरायें नहीं। सावधानी बरतने पर इससे बचाव किया जा सकता है। यही नहीं, भारतीय चिकित्सा अनुसन्धान केन्द्र बरेली ने इसकी वैक्सीन विकसित कर ली है, जो जल्द ही बा़जार में उपलब्ध हो जायेगी।

लम्पी वायरल बीमारी है, जो त्वचा रोग की श्रेणी में आती है। यह बीमारी गुजरात में बहुतायत में पायी जाती है, लेकिन अब यहाँ भी गायों में इस बीमारी के लक्षण पाये जाने लगे हैं। नगर निगम के पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी डॉ. राघवेन्द्र सिंह ने बताया कि इस बीमारी से पशुपालक घबरायें नहीं। आपके जानवर को लम्पी बीमारी हो गयी है तो उसे दूसरे जानवरों के साथ न रखें। बरेली में इसकी वैक्सीन का ट्रायल पूरा हो चुका है। जल्द ही यह बा़जार में आ जाएगी।

यह हैं लक्षण

लम्पी रोग होने पर गायों के शरीर में गाँठें पड़ जाती हैं। कुछ दिनों के बाद इन गाँठों से रिसाव होने लगता है। धीरे-धीरे घाव बड़े हो जाते हैं। गाय को हल्का बुखार रहने लगता है। यदि गाय दूध देती है तो दूध कम हो जाता है। यह बीमारी एक जानवर से दूसरे में बहुत ते़जी से फैलती है। एक से दो सप्ताह में जानवर की मौत हो जाती है। आमतौर पर यह बीमारी गायों में अधिक होती है।

फाइल : सुनील सुल्लेरे

समय : 8.10 बजे

Edited By: Jagran