झाँसी : उन रेलकर्मियों के लिए रेलवे बोर्ड की ओर से राहत भरी खबर आई है, जिनके तबादले की सूची जारी हो गई है। बोर्ड ने सम्वेदनशील या अहम पद पर काम कर रहे अपने कर्मचारियों के आवधिक स्थानान्तरण पर रोक लगा दी है। कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए बोर्ड की तरफ से यह फैसला लिया गया है। रेलवे बोर्ड ने पत्र जारी कर अपने सभी ़जोन एवं प्रोडक्शन यूनिट को आदेश दिया है कि सम्वेदनशील पदों पर काम करने वाले कर्मचारियों के अप्रभावित आवधिक स्थानान्तरण आदेश की समीक्षा की जाए और महामारी के चलते पैदा मुश्किल हालात को देखते हुए 30 दिसम्बर तक उन्हें लम्बित रखा जाए।

झाँसी से उठकर मुरैना जाएगा हेरिटेज ट्रेन इंजन

झाँसी : मण्डल के सीनियर रेलवे इंस्टिट्यूट में कई साल पहले पार्क बनाकर उसमें रेलवे का आधार और अब भारतीय रेल की ऐतिहासिक धरोहर बन चुके स्टीम इंजन को मुरैना भेजने की तैयारी की जा रही है। इस बात की जानकारी सार्वजनिक होते ही इसका विरोध भी होने लगा है। पूर्व केन्द्रीय मन्त्री प्रदीप जैन आदित्य ने हेरिटेज इंजन को मुरैना भेजने की योजना पर रेलमन्त्री को पत्र लिखते हुए आपत्ति जताई है। उन्होंने कहा कि इंस्टिट्यूट में रखा स्टीम इंजन झाँसीवासियों और उनके बच्चों को भारतीय रेल का इतिहास बताता है, लेकिन रेलवे इसे मुरैना भेजकर झाँसी की धरोहर से खिलवाड़ कर रहा है। रेलवे को अपना निर्णय वापस लेकर इंजन को यहीं रहने देना चाहिए।

झाँसी-प्रयागराज एक्सप्रेस में मिला वृद्ध का शव

झाँसी : शुक्रवार को झाँसी से प्रयागराज जाने वाली झाँसी-प्रयागराज अनारक्षित स्पेशल एक्सप्रेस (04111) प्लैटफॉर्म नम्बर 6 पर खड़ी थी। इसी बीच किसी यात्री ने रेलवे को सूचना दी कि ट्रेन के शौचालय में लगभग 60 वर्षीय वृद्ध का शव पड़ा है। मौके पर पहुँची जीआरपी ने शव को ट्रेन से नीचे उतारा। मृतक की पहचान नहीं हो सकी। इसके बाद शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया।

फाइल : वसीम शेख

समय : 09 : 40

24 सितम्बर 2021

Edited By: Jagran