झाँसी : सुपर स्पेशिऐलिटि ब्लॉक के उद्घाटन समारोह में शामिल होने के केन्द्रीय मन्त्री डॉ. हर्षवर्धन प्रदेश सरकार में कैबिनेट मन्त्री सुरेश खन्ना के साथ चार्टर्ड प्लेन से झाँसी आए। आर्मी एयर स्ट्रिप पर उनका प्लेन प्रात: 9.45 बजे उतरा। यहाँ से दोनों मन्त्री सर्किट हाउस पहुँचे और चाय पीने के बाद मुख्यमन्त्री के साथ मेडिकल कॉलिज पहुँच गए। रास्ते में ही डॉ. हर्षवर्धन को दिल्ली में भीषण अग्निकाण्ड में तीन द़र्जन लोगों की मौत की ख़्ाबर मिली। सभा को सम्बोधित करते हुए उन्होंने दिल्ली की घटना पर शोक जताया। वैसे उन्हें चार्टर्ड प्लेन से कैबिनेट मन्त्री सुरेश खन्ना के साथ लखनऊ जाना था, लेकिन दिल्ली घटना के कारण उन्होंने कार्यक्रम बदला और अपराह्न 3 बजे गतिमान एक्सप्रेस से दिल्ली रवाना हो गए।

जनप्रतिनिधियों व नेताओं से की चर्चा

झाँसी : मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए सुबह कई नेता पहुँचे। सांसद अनुराग शर्मा के अलावा सदर विधायक रवि शर्मा, बबीना विधायक राजीव सिंह पारीछा ने मुख्यमन्त्री से मुलाकात की। सुबह एक बार फिर हवाई अड्डे को लेकर चर्चा हुई। महानगर अध्यक्ष मुकेश मिश्रा ने बुन्देलखण्ड को पर्यटन का हब बनाने की दिशा में और प्रयास करने की बात कही। मुख्यमन्त्री ने कहा कि बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे, डिफेंस कॉरिडोर जैसी योजनाएं जब आकार लेंगी, तो पर्यटन की बड़ी इण्डस्ट्री खड़ी होगी। उधर, जालौन सांसद भानु वर्मा के साथ गरौठा विधायक जवाहर लाल राजपूत, जालौन के विधायक मूलचन्द्र निरंजन, गौरीशंकर वर्मा, नरेन्द्र सिंह जादौन ने भी मुख्यमन्त्री से मुलाकात की। गरौठा विधायक ने एक बार फिर पराली जलाने पर किसानों के ख़्िाला़फ मु़कदमा दर्ज न कराने का अनुरोध किया। विधायक ने बताया कि सपा सरकार में अवैध खनन मा़िफया ने नदियों और खदानों को खोद दिया था। हमीरपुर की तरह यहाँ हुए अवैध खनन की भी सीबीआइ जाँच कराने की माँग की, इस पर मुख्यमन्त्री ने प्रपत्र उपलब्ध कराने को कहा।

ये रहे उपस्थित

मेडिकल कॉलिज में आयोजित कार्यक्रम में बुन्देलखण्ड विकास बोर्ड के अध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह, मण्डलायुक्त सुभाष चन्द्र शर्मा, डीआइजी सुभाष सिंह बघेल, ़िजलाधिकारी शिवसहाय अवस्थी, एसएसपी डॉ. ओपी सिंह, सीडीओ निखिल फुण्डे, पूर्व महानगर अध्यक्ष प्रदीप सरावगी, अमित साहू, शैलेन्द्र प्रताप सिंह, संजीव अग्रवाल लाला, मनमोहन गेड़ा, लाखन सिंह, पुनीत अग्रवाल, डॉ. बालमुकुन्द आदि उपस्थित रहे।

फोटो : 8 बीकेएस 104

:::

साँसद ने सँभाली सुरक्षा की कमान

0 मुख्यमन्त्री के सभागार में पहुँचने के पहले टूटा सुरक्षा चक्र, कई अनजान लोग पहुँचे अन्दर

झाँसी : मुख्यमन्त्री की सुरक्षा व्यवस्था को लेकर इस बार पुलिस व प्रशासन की चौकसी अधिक रखी गयी और इसी सुरक्षा-व्यवस्था के मद्देऩजर मेडिकल कॉलिज सभागार में सुपर स्पेशिऐलिटि ब्लॉक के लोकार्पण के बाद सभा में चुनिन्दा गणमान्य नागरिकों, चिकित्सकों व जनप्रतिनिधियों को ही प्रवेश देने की रणनीति बनायी गयी। इसमें भाजपा के कई पदाधिकारी व मीडिया प्रतिनिधियों को सभागार से बाहर रखा गया। पर, ऐन मौके पर कई सत्ताधारी दल व समर्थक संगठनों के लोगों को प्रवेश दे दिया गया। इसके बाद भी भाजपा के कई पदाधिकारी व बड़े कार्यकर्ता बाहर ही रह गए। इस बीच, सांसद व विधायक सदर समर्थकों के साथ पहुँचे, तो उनके समर्थकों को रोक लिया गया। मीडिया ने भी अपनी बात जनप्रतिनिधियों तक पहुँचायी। इन सबके प्रवेश को लेकर अधिकारियों से बात चल रही थी, तब तक मुख्यमन्त्री के काफिला में आ गया, तो उत्साहित व आक्रोशित भाजपाइयों ने बैरिकेड के रूप में लगे गेट को धक्का देकर खोल दिया। इस बीच मुख्यमन्त्री का काफिला एकदम सामने पहुँच गया। इस अचानक बिगड़ी सुरक्षा व्यवस्था से पुलिस व प्रशासन के अधिकारी लगभग मूकदर्शक की स्थिति में पहुँच गए, तब सासद ने आगे बढ़कर सुरक्षा का मोर्चा सँभाला और कार्यकर्ताओं को एक तरफ कर रास्ता बनाया। इसमें विधायक ने भी उनकी मदद की। इससे कई ऐसे लोग भी बगैर जाँच के प्रवेश पा गए और सभागार तक पहुँच गए। हॉल के अन्दर डीएम व एसएसपी को व्यवस्था बनाने के लिए सामने आना पड़ा।

आरोग्य मेला लगाएं जूनियर डॉक्टर

झाँसी : मुख्यमन्त्री योगी आदित्यनाथ ने चिकित्सा छात्रों को उज्ज्वल भविष्य व सेवा भाव को लेकर आज कई सलाह दिए। मुख्यमन्त्री ने जूनियर डॉक्टर को अपने करियर में सेवा के भाव को बढ़ाने के साथ गरीबों व आम आदमी से जुड़ने के नुस्खे भी बताए। उन्होंने कहा कि जूनियर चिकित्सक समूह बनाकर रविवार व अन्य अवकाश पर आसपास के सीएसची व पीएचसी जाकर आरोग्य मेला लगाएँ और गरीबों से जुड़ें। यह उनके चिकित्सकीय जीवन में काफी काम आएगा। उन्होंने कहा कि पीएचसी में मरी़जों को देखने पर दवाओं का खर्च शासन की तरफ से दिया जाएगा। उन्होंने कहा की प्रथम स्वतन्त्रता संग्राम की नायिका रानी लक्ष्मीबाई के नाम से चल रहे मेडिकल कॉलिज की छात्राओं से उन्हें उम्मीद है कि वह आगे आकर इस दिशा में काम करेंगी और गरीबों की मदद करेंगी। मुख्यमन्त्री ने कहा कि जूनियर डॉक्टर ़िजला प्रशासन व सीएमओ से मिलकर इस योजना पर कार्य कर सकते हैं।

फाइल : राजेश, रघुवीर

8 दिसम्बर 2019

समय : 8.25 बजे

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस