जागरण संवाददाता, मछलीशहर (जौनपुर): कोतवाली क्षेत्र के एक गांव में रिश्ते में भतीजी लगने वाली युवती की गोदभराई की खबर लगने पर चंडीगढ़ से आया प्रेमी चाचा उसे लेकर फरार हो गया। तलाश के दौरान हाथ लगने पर स्वजन ने दोनों की पिटाई कर दी। कोतवाली में दोनों पक्षों के बीच घंटों चली पंचायत में पुलिस व ग्राम प्रधान की सलाह पर दोनों पक्ष उनकी शादी करने को राजी हो गए। मामला चर्चा का विषय बन गया है।

अनुसूचित जाति के युवक की रिश्ते में चचेरी भतीजी लगने वाली युवती से आंखें चार हो गईं। दोनों के प्रेम प्रसंग की भनक लगने पर स्वजन ने युवक को चंडीगढ़ भेज दिया। इसी बीच युवती के स्वजन ने उसकी शादी सिकरारा थाना क्षेत्र के एक गांव में तय कर दी। शनिवार को युवती की गोदभराई की रस्म हुई। चंडीगढ़ में इसकी जानकारी होने पर प्रेमी युवक तुरंत ट्रेन पकड़कर घर पहुंच गया। देररात युवती को लेकर भाग गया। दोनों के स्वजन खोज में जुट गए। रविवार की सुबह दोनों को बगल के गांव में एक घर से पकड़ लिया और पिटाई की। संज्ञान में आने पर ग्राम प्रधान ने समझा-बुझाकर शांत किया और पुलिस को सूचना दी। कोतवाली लाए जाने पर दोनों पक्षों की घंटों पंचायत चली। दोनों एक-दूसरे के साथ जीने-मरने की जिद करने लगे। आखिरकार ग्राम प्रधान व पुलिस के समझाने पर दोनों के स्वजन उनकी शादी करने के लिए राजी हो गए। कोतवाली के एसएसआइ राम प्रवेश कुशवाहा ने कहा कि शादी के लिए रजामंदी के बाद प्रेमी युगल को स्वजन लेकर घर चले गए।

Edited By: Jagran