जासं, खुटहन (जौनपुर): कबीरुद्दीनपुर गांव में संचालित गौतम बुद्ध सक्षम दिव्यांग शिक्षण प्रशिक्षण संस्थान के सौजन्य से शनिवार को निजी फंड से एक साथ 49 दिव्यांगजनों को ट्राई साइकिल प्रदान किया गया जिसे पाकर दिव्यांगों के चेहरे खिल गए। संस्थान के प्रबंधक लक्ष्मीकांत भारतीय ने कहा कि सेवा भाव ही आदमी को महान बनाता है। जो सक्षम हैं, उनके हाथ, पैर और दिमाग सब ठीक ठाक है। वे सेवा व सहायता के पात्र नहीं हैं। असली सहायता तो उनकी है जो दिव्यांगजन हैं।

उन्होंने कहा कि यदि हम दिव्यांगों की आर्थिक व संसाधनों संबंधी मदद नहीं कर सकते तो उन्हे मानसिक रूप से ही मजबूत करें। उनका ध्यान शिक्षा के प्रति केंद्रित करें। शैक्षिक परिवेश में आकर स्वत: ही उनका पूर्वाग्रह दूर होता चला जाएगा। इस मौके पर मोहम्मद नासिर, रंजीत कुमार, रणजीत, संदीप, अर¨वद, प्रदीप, संतोष आदि मौजूद रहे। अध्यक्षता समाजसेवी जयराम मौर्या ने की और संचालन प्रधानाचार्य राम प्रेम भारतीय ने किया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप