जागरण संवाददाता, जौनपुर: हिदूवादी नेता कमलेश तिवारी की हत्या से आक्रोशित विश्व ब्राह्मण महापरिषद ने सोमवार दोपहर मुंगराबादशाहपुर नगर में जुलूस निकालकर विरोध जताया। उधर करणी सेना के कार्यककर्ताओं ने धनियामऊ बाजार में कैंडिल मार्च निकालकर कमलेश तिवारी को श्रद्धांजलि दी।

विश्व ब्राह्मण महापरिषद के प्रदेश अध्यक्ष पायलट आफिसर राधेश्याम पांडेय के नेतृत्व में जुटे लोगों ने 'हत्यारों को फांसी दो, साजिश कर्ताओं को गिरफ्तार करो', नारे लगाते हुए मुंगराबादशाहपुर नगर के मुख्य चौराहे से जुलूस निकाला। जुलूस स्टेशन रोड, प्रतापगढ़ रोड, मोहल्ला साहबगंज, कटरा, अंजही, गुड़हाई, नई बाजार, सुजानगंज बाईपास चौराहा होते हुए जंघई रोड पहुंचा जहां सभा में तब्दील हो गया। सभा को संबोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कमलेश तिवारी की हत्या सामान्य अपराध नहीं है़ यह हिदुत्व विचारधारा की हत्या है। बड़ी साजिश के तहत योजनाबद्ध तरीके से कमलेश तिवारी की हत्या की गई ताकि कोई हिदुत्व विचारधारा को आगे बढ़ाने के लिए नेतृत्व न करे। भास्कर दुबे ने कहा हत्यारों के साथक्ष साथ साजिश कर्ताओं को भी सजा नहीं मिली तो लड़ाई आर-पार की होगी। विरोध जुलूस में एबीवीपी के छात्र भी शामिल रहे। कार्यक्रम में अतुल तिवारी, बीडी दुबे, सुभाष पांडेय, सुनील मिश्रा, अखिलेश शुक्ला, राजीव मिश्रा, ऋषभ तिवारी आदि सैकड़ों लोगों ने भाग लिया।

उधर बक्शा विकास खंड के अगरौरा धनियामऊ बाजार में शाम को करणी सेना के जिला प्रभारी एन के सिंह विशेन के नेतृत्व में कार्यकताओं ने कैंडिल मार्च निकाल कमलेश तिवारी को श्रंद्धाजलि दी। एनके सिंह ने कहा कि सनातन धर्म व हिदुओं के लिए कमलेश तिवारी का बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा। बाजार में भ्रमण के दौरान युवाओं ने 'कमलेश तिवारी अमर रहे' के नारे भी लगाए। इस दौरान अतुल सिंह, वैभव सिंह, शिवम पाठक, शुभम दुबे, कनिष्क पाठक आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप