जागरण संवाददाता, मछलीशहर (जौनपुर) : जिले के प्रभारी मंत्री उपेंद्र तिवारी राज्यमंत्री गिरीश चंद्र यादव के साथ स्थानीय तहसील सभागार में शुक्रवार की शाम सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा की। कहा कि सभी योजनाओं पर पात्रों का समान अधिकार है। किसी के साथ भेदभाव नितांत अनुचित है। उन्होंने कार्यकर्ताओं व आम जनमानस की समस्याएं भी सुनीं। अधिकारियों को चेतावनी दी कि एक रुपये की भी रिश्वत की शिकायत मिलने पर कार्रवाई निश्चित है। स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान कोविड टीकाकरण की स्थिति और आयुष्मान योजना के प्रगति की जानकारी ली। सामुदायिक शौचालयों, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री आवास योजना का लक्ष्य बढ़ाने पर जोर दिया। आपूर्ति विभाग की समीक्षा के दौरान मंत्री ने स्पष्ट कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी गांव में कोई पात्र राशन कार्ड से वंचित न रहे। मंत्री गिरीश यादव ने कहा कि प्राय: देखने में आ रहा है कि लोगों को तीन-चार महीना तक राशन मिलने पर अचानक बंद कर दिया जाता है या फिर यूनिटें घटा दी जाती हैं। प्रश्न किया कि जब एक बार आधार कार्ड लिक करके तमाम औपचारिकता पूरी करके तीन चार महीने राशन दिए जाने के बाद क्यों बंद कर दिया जाता है। जांच कराकर पता किया जाए कि उनका राशन कौन खा रहा है। ब्लाक में संचालित आधा दर्जन गोशालायों की स्थिति की भी जानकारी ली गई। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के बारे में बताया गया कि 18 सौ किसानों का धन गलत खातों में जा रहा है। इसे चिन्हित कर लिया गया है। मंत्री ने कहा कहा कि सरकार ने जर्जर बिजली के तारों को बदलने के लिए 250 करोड़ का बजट पास है। इस दौरान अधिकारी व जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे।

Edited By: Jagran