जौनपुर: लखनऊ-वाराणसी रेल मार्ग पर सरायहरखू स्टेशन के समीप ट्रैक पर गिट्टी आने से दो घंटे तक हावड़ा-अमृतसर ट्रेन खड़ी रही। जिसके चलते यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं दो ट्रेनों की आमने-सामने होने की अफवाह पूरे जिले में फैल गई।

सरायहरखू स्टेशन के पास मालगाड़ी से ट्रैक के किनारे गिट्टी गिराई जा रही थी। जानकारी न होने के कारण प्राइवेट श्रमिक ने बोगी का पूरा दरवाजा अचानक खोल दिया। जिससे चलते ट्रैक गिट्टी से ढक गया। इसी दौरान लखनऊ की ओर से 3050 डाउन हावड़ा-अमृतसर ट्रेन लगभग 5.10 बजे आ गई। रास्ता अवरुद्ध होने के कारण ट्रेन को सरायहरखू स्टेशन पर खड़ा कर दिया गया। ट्रैक साफ होने पर दो घंटे बाद ट्रेन गंतव्य को रवाना की गई। वहीं दूसरी तरफ मालगाड़ी और हावड़ा-अमृतसर के आमने-सामने होने की अफवाह तेजी से फैल गई। सूचना पर ट्रेन में यात्रा कर रहे परिवार के लोगों व शुभ¨चतकों में खलबली मच गई। लोग मोबाइल के जरिए एक दूसरे से संपर्क कर स्थिति की जानकारी लेते रहे। काफी देर तक लोग स्टेशन के आसपास टहलते रहे। कर्मचारियों द्वारा तेज गति से काम कराया गया।

जौनपुर सिटी स्टेशन पर तैनात स्टेशन मास्टर सीपी ¨सह ने बताया कि ट्रेनों के आमने-सामने होने की अफवाह थी। गिट्टी ट्रैक पर आने के कारण गतिरोध आया। जहां तक ट्रेनों के एक ही ट्रैक पर आमने-सामने आने की अफवाह है, वह नई तकनीक के कारण संभव नहीं है।