जागरण संवाददाता, उरई : नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों का एक दिवसीय उन्मुखीकरण व परिचयात्मक प्रशिक्षण कार्यक्रम ग्राम राहिया के पंचायत सचिवालय में हुआ। ट्रेनिग में मॉडल ग्राम बनाने के टिप्स सहित जीपीडीपी, पंचायती राज व्यवस्था, समितियों के प्रकार, ई ग्राम स्वराज सहित अन्य पंचायत से जुड़े विषयों पर जानकारी दी गयी।

कार्यक्रम का शुभारंभ जिला पंचायत अध्यक्ष डा. घनश्याम अनुरागी ने दीप प्रज्वलन कर किया। उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत लोकतंत्र की सबसे छोटी लेकिन सबसे मजबूत इकाई होती है। ग्राम प्रधान यदि चाह ले तो गांव की तस्वीर बदल सकता है। जिला विकास अधिकारी ने भी विकास से जुड़ी योजनाओं के क्रियान्वयन संबंधी जानकारी दी।डीपीआरओ अवधेश सिंह ने पंचायती राज व्यवस्था की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 13वें संविधान संशोधन के बाद से पंचायतों को संवैधानिक दर्जा मिला और उनके वित्त व अधिकारों में वृद्धि हुई। एसडीएम गुलाब सिंह ने राजस्व संबंधी विषयों पर जानकारी दी। बीडीओ ब्रजकिशोर कुशवाहा व सहायक विकास अधिकारी पंचायत बलवीर सिंह सेंगर ने मनरेगा व पंचायत से जुड़ी योजनाओं से संबंधित व उनके क्रियान्वयन आदि विषय पर जानकारी दी। मास्टर ट्रेनर अमित द्विवेदी व सुल्तान मेंहदी ने मॉडल पंचायत, ग्राम पंचायत विकास योजना, पंचायत की समीतियों के प्रकार, ई ग्राम स्वराज सहित अन्य पंचायत संबंधी विषयों पर जानकारी दी। प्रशिक्षण बैच में डकोर ब्लॉक के करीब 38 ग्राम पंचायतों के ग्राम प्रधानों ने प्रतिभाग किया। इस दौरान ग्राम विकास अधिकारी हरीश राठौर, नौशाद अली,शशांक स्वरूप सिंह सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। पक्की सड़कों से ही आवागमन होगा सुगम संवाद सूत्र, रामपुरा : विकास खंड के अंतर्गत ग्राम पंचायत रामपुरा देहात में बुधवार को क्षेत्रीय विधायक मूलचंद्र निरंजन ने इंटरलाकिग द्वारा बनाई गई सड़क का लोकार्पण किया।

विधायक ने सरकार के विकास कार्यों व नई योजनाओं के बारे में ग्रामीणों को बताया। उन्होंने कहा कि जब गांव की सड़कें अच्छी होंगी तो आवागमन सुगम हो जाएगा। इससे लोग सीधे गंतव्य तक पहुंच सकते हैं। उन्होंने किसानों से कहा कि वह फसलों का बीमा अवश्य कराएं जिससे किसी भी नुकसान से बचा जा सके। जब ओलावृष्टि, अतिवृष्टि होती तो फसलों को नुकसान पहुंचता है ऐसे में बीमा होने पर उन्हें पूरा क्लेम मिलेगा जिससे किसान नुकसान से बच सकते हैं। इस दौरान बीडीओ संदीप कुमार, जेई आरईएस लाखन सिंह, सचिव जगदंबा प्रसाद, तकनीकी सहायक नहीम सिद्दीकी, महेश कुमार, शिवकुमार गौर, भानू, अवनीश कुमार सहित कई लोग मौजूद रहे।

Edited By: Jagran