जागरण संवाददाता, उरई : भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने सोमवार को जुलूस निकालकर कलेक्ट्रेट में जोरदार प्रदर्शन किया। उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र व प्रदेश की सरकार गरीबों मजदूरों के हितों के साथ खिलवाड़ कर रही हैं। अनुसूचित वर्ग पर लगातार जुल्म हो रहे हैं। मानवाधिकारों का हनन हो रहा है। महंगाई चरम पर पहुंच चुकी है। इसके बाद उन्होंने राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन सिटी मजिस्ट्रेट को सौंपा।

सोमवार को भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने संगठन कार्यालय से कलेक्ट्रेट तक जुलूस निकाला। इस दौरान जोरदार नारेबाजी कर केंद्र व प्रदेश सरकार पर आरोप लगाए गए। पार्टी के जिला सचिव राजीव कुशवाहा ने कहा कि केंद्र सरकार पूंजीपतियों के इशारों पर चल रही है। फायदा पूंजीपतियों को मिल रहा है। देश की गरीब जनता का बुरा हाल हो गया है। मजदूर किसान परेशान हैं। उनके हितों की अनदेखी कर खिलवाड़ किया जा रहा है। इसके बाद भी केंद्र व प्रदेश की सरकार कुछ नहीं कर रही हैं। निर्माण मजदूर यूनियन के प्रांतीय सह सचिव राम ¨सह चौधरी ने कहा कि मानवाधिकारों का हनन किया जा रहा है। सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ लड़ने वालों पर जुल्म ढाए जा रहे हैं। भीमा कोरेगांव की घटना इसका उदाहरण है। जिले में ही आटा थाना क्षेत्र में एक दलित परिवार पर कुछ दबंगों ने उत्पीड़न किया लेकिन अब तक उनके खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई है। इस मौके पर हरीशंकर, विजय भारती, जगराम, भोला शंकर, चेतराम, चरण ¨सह, मदन सिरौठिया सहित कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Posted By: Jagran