जागरण संवाददाता, हाथरस : तीसरी मंजिल पर सीवर पाइप लाइन की सफाई कर रहे मजदूर की गिरने से मौत हो गई। आरोप है कि ऊपर खड़े व्यक्ति ने रस्सी छोड़ दी थी, जिसके कारण वह नीचे गिरा और सिर में गंभीर चोट के कारण जान चली गई।

गांव नगला रानी निवासी रमन (33) पुत्र सूरज पाधरे मजदूरी पर काम करते थे। बुधवार की सुबह वे सीवर की सफाई के लिए वाटर व‌र्क्स कॉलोनी के पास आसरा योजना के अंतर्गत बने आवासों में गए थे। यहां टैंक की सफाई के बाद वह धर्मा पुत्र बनिया के तीसरी मंजिल स्थित आवास की सीवर पाइप लाइन की सफाई कर रहे था। चूंकि पाइप दीवार से सटकर नीचे टैंक में जा रही थी, इसलिए वह कमर में रस्सी बांधकर छत से नीचे की ओर लटक गए तथा पाइप लाइन की सफाई में जुट गए। रस्सी धर्मा ने पकड़ रखी थी। रमन के परिजनों का आरोप है कि धर्मा ने जान-बूझकर रस्सी छोड़ दी, जिससे वह तीसरी मंजिल से सीधे जमीन पर आकर गिरा। रमन के सिर व कमर में गंभीर चोट आई। सिर फट गया। आसपास काफी संख्या में लोग जमा हो गए। आनन-फानन उसे जिला अस्पताल लाया गया, जहां से प्राथमिक उपचार के बाद अलीगढ़ रेफर कर दिया था। अलीगढ़ मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा था। रमन के भाई बबलू के अनुसार देर रात रमन ने दम तोड़ दिया। बबलू ने धर्मा को भाई की मौत का जिम्मेदार ठहराते हुए कोतवाली सदर में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पोस्टमार्टम अलीगढ़ में ही हुआ है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप