संस, हाथरस : मेला श्री दाऊजी महाराज में यूं तो सभी कार्यक्रम व आइटम लोगों को आकर्षित करने वाले हैं पर इनमें वाटरवोट बच्चों के लिए सर्वाधिक आकर्षण का केंद्र है। पानी में वोटिग करना कश्मीर की वादियों का आनंद बच्चों को दिला रहा है।

दाऊबाबा के मेला में कोई कमी न रहे, इसका आयोजकों ने पूरा ध्यान रखा है। इस बार भी मेले को आकर्षक बनाने के लिए खेल तमाशों के साथ नये आयटम भी लाए गए हैं। इस बार जो आइटम सभी को लुभा रहे हैं, उसमें वाटरवोट भी शामिल है। मेला पंडाल के पीछे लगे झूलों के करीब ही कृत्रिम झील बनाकर वोटिंग की सुविधा दी गई है। पानी में तैरती छोटी-छोटी रंग-बिरंगी नावें नाव बच्चों की पसंदीदा जगह है। वाटर पार्क में करीब 10 वोट डाली गई हैं। इसमें एक वोट एक ही बच्चे के लिए है। इस आइटम को मेले में लाने वाले जिला औरैया निवासी धर्मराज सिंह बताते हैं कि वे पिछले दो वर्षों से मेला आदि आयोजनों में वाटरवोट चला रहे हैं। इस वाटर टैंक को भरने के लिए 7-8 टैंकर पानी डाला जाता है जो 4-5 दिन चल जाता है। पानी प्रदूषित न हो इसके लिए उसमें बाकायदा केमिकल डाला जाता है। उन्होने यह भी बताया कि डेढ़ फीट गहरे इस पानी के टैंक में बच्चों के दुर्घटनाग्रस्त होने की संभावना कम होती है, क्योंकि बच्चों के वोटिग करने के दौरान उनपर कर्मचारी नजर रखे रहते हैं। कुछ भी हो मेले में आने वाले बच्चों को यह कार्यक्रम खूब पसंद आ रहा है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस