संवाद सहयोगी, हाथरस : डा. बीआर आंबेडकर विश्वविद्यालय से जुड़े महाविद्यालयों की परीक्षाओं का आगाज शनिवार से हो जाएगा। कोविड नियमों का पालन कराते हुए स्नातक द्वितीय व तृतीय वर्ष के अलावा परास्नातक की अंतिम वर्ष की परीक्षाएं कराई जा रही हैं। शुक्रवार को महाविद्यालयों में प्रवेशपत्र लेने के लिए परीक्षार्थियों की भीड़ उमड़ पड़ी।

तीन नोडल केंद्र बनाए गए

परीक्षा केंद्रों पर शांतिपूर्ण परीक्षाओं के लिए डा. बीआर आंबेडकर विश्वविद्यालय की ओर से तीन महाविद्यालयों को नोडल केंद्र बनाया गया है। बागला महाविद्यालय नोडल केंद्र से पंद्रह केंद्र जुड़े हुए हैं। जबकि राजकीय महाविद्यालय कुरसंडा तथा महाराणा प्रताप महाविद्यालय सिकंदराराऊ को नोडल केंद्र बनाया गया है। राजकीय महाविद्यालय कुरसंडा नोडल केंद्र से आठ परीक्षा केंद्र जुड़े हुए हैं। जबकि महाराणा प्रताप महाविद्यालय सिकंदराराऊ से भी आठ परीक्षा केंद्र जुड़े हुए हैं। कोविड नियमों का पालन

कोरोना संक्रमण अभी खत्म नहीं हुआ है। महाविद्यालयों की परीक्षाओं में देरी का कारण भी कोरोना संक्रमण ही है। तमाम प्रयासों के बाद अब परीक्षाओं का आगाज हो रहा है। इसलिए महाविद्यालयों से परीक्षा के दौरान कोविड नियमों का पालन सख्ती से कराने को कहा गया है। बिना मास्क लगाए आने वाले परीक्षार्थियों को अनुमति नहीं होगी। शारीरिक दूरी का पालन भी केंद्रों पर करना होगा। थर्मल स्केनर के जरिए परीक्षार्थियों का तापमान नापा जाएगा। डेढ़ घंटे में हल करना होगा प्रश्नपत्र

कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए इस बार विश्वविद्यालय की ओर से परीक्षा के कार्यक्रम में काफी बदलाव किया गया है, जहां शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। इसके साथ ही तीन घंटे की बजाय परीक्षार्थियों को सिर्फ डेढ़ घंटे में प्रश्न पत्र हल करना होगा। ओएमआर सीट पर बहुविकल्पीय पैटर्न से परीक्षा होगी। तीन पालियों में परीक्षा आयोजित कराई जाएगी। सुबह आठ बजे से साढ़े नौ बजे तक प्रथम पाली, साढ़े ग्यारह बजे से एक बजे तक दूसरी पाली तथा तीन बजे से साढ़े चार बजे तक तीसरी पाली में परीक्षा आयोजित कराई जाएगी।

प्रवेशपत्र के लिए करनी पड़ी मशक्कत

विश्वविद्यालय की ओर से गुरुवार को महाविद्यालयों की लागिन आइडी पर परीक्षार्थियों के प्रवेशपत्र भेज दिए गए। शुक्रवार को पूरे दिन महाविद्यालयों में स्नातक द्वितीय व तृतीय वर्ष के अलावा परास्नातक अंतिम वर्ष के परीक्षार्थियों की भीड़भाड़ देखने को मिली। परीक्षार्थियों ने नो ड्यूज कराने के बाद प्रवेश पत्र प्राप्त किया।

Edited By: Jagran