जागरण संवाददाता, हाथरस : बिजली कॉटन मिल चौराहा पर शुरू हुए मरम्मत के काम के कारण मंगलवार को लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। सुबह से रेलवे फाटक बंद कर दिया था। इसके कारण लोगों दूसरे रास्तों से नगला अलगर्जी रोड जाना पड़ा। यहां अधिक ट्रैफिक नहीं रहता है, इसलिए अन्य चौराहों पर स्थिति सामान्य थी, लेकिन काफी लंबा रास्ता तय करने के कारण लोगों को दिक्कत हुई।

रेलवे दो से तीन साल में एक बार रेलवे क्रॉसिग पर रेलवे लाइन की मरम्मत करती है। ये रेलवे लाइन सड़क के अंदर होती हैं। इसलिए समय-समय पर मरम्मत संभव नहीं हो पाती। अंदर पटरी व कपलिंग पर जंग लग जाता है, जिसे दूर करना जरूरी होता है। खुदाई कर यहां नए स्लीपर, कपलिंग आदि लगाए जाते हैं। उसके बाद लाइन बिछाई जाती है। मंगलवार सुबह आठ बजे से खुदाई का काम शुरू हो गया था। इसलिए फाटक को बंद करना पड़ा। यहां से रोजाना हजारों लोग गुजरते हैं। प्रकाश टैक्सटाइल, विष्णुपुरी, खंदारी गढ़ी, नगला अलगर्जी आदि इलाकों की आबादी प्रभावित हुई। दुपहिया वाहन चालक तो जैसे-तैसे निकल गए। चार पहिया वाहन चालकों को नगला अलगर्जी रोड मंडी समिति से अलीगढ़ रोड होते हुए आना पड़ा। इतने बड़े फेर के कारण परेशानी हुई। लोग कच्चे रास्तों से दूसरी क्रॉसिग से निकलते नजर आए। मुख्य मार्ग न होने के कारण यहां जाम की स्थिति नहीं रही।

बुधवार से लोगों को जाम का सामना करना पड़ेगा। बुधवार की सुबह आठ बजे से बागला मार्ग रेलवे फाटक पर भी मरम्मत का काम शुरू होगा। तालाब चौराहा के बाद यह मुख्य क्रॉसिग है। इससे सासनी गेट चौराहा का ट्रैफिक तालाब चैराहा पर रहेगा। यहां जबरदस्त जाम लगने की संभावना है।

स्कूल बसों के लिए गए चालान

फोटो-26

हाथरस : ट्रैफिक पुलिस ने मंगलवार की सुबह अलीगढ़ रोड पर स्कूल वाहनों के खिलाफ अभियान चलाया। स्कूल के बाहर प्राइवेट वाहन खड़े रहते हैं, जिनमें बस, मिनी बस, टेम्पो आदि हैं। टीआइ शौर्य कुमार ने बताया कि 12 स्कूली वाहनों के चालान किए गए, जिसमें से एक बस को सीज किया गया। बस चालक पर कोई कागज नहीं थे। इसलिए बच्चों को दूसरे साधन से भेजा गया। इनके अलावा नो एंट्री में आने वाले 13 ट्रकों के चालान किए गए। दो ट्रक नो एंट्री व ओवरलोडिग के कारण कोतवाली सदर में सीज कराए गए हैं।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप